देश भोपाल मध्‍यप्रदेश

मप्र में मिले कोरोना के 35 नये मामले, 18 दिन से कोई मौत नहीं

भोपाल। मध्यप्रदेश (Madhya Pradesh) में बीते 24 घंटों में कोरोना के 35 नये मामले (35 new cases of corona in the last 24 hours) सामने आए हैं, जबकि 33 मरीज कोरोना संक्रमण से मुक्त हुए हैं। इसके बाद राज्य में संक्रमितों की कुल संख्या 10 लाख 41 हजार 867 हो गई है। राहत की बात है कि राज्य में लगातार 18वें दिन कोरोना से कोई मौत नहीं हुई है। यह जानकारी स्वास्थ्य विभाग द्वारा शुक्रवार देर शाम जारी कोविड-19 बुलेटिन में दी गई। एक दिन पहले राज्य में 40 नये संक्रमित मिले थे।

कोविड-19 बुलेटिन के अनुसार, आज प्रदेशभर में 7,862 सैम्पलों की जांच रिपोर्ट प्राप्त हुई। इनमें 35 पॉजिटिव और 7,827 सैम्पल निगेटिव पाए गए, जबकि 43 सैम्पल रिजेक्ट हुए। पॉजिटिव प्रकरणों का प्रतिशत (संक्रमण की दर) 0.4 रहा। नये मामलों में गुना और ग्वालियर में 7-7, टीकमगढ़ में 4, इंदौर और राजगढ़ में 3-3, भोपाल, मुरैना, रायसेन और शिवपुरी में 2-2 तथा जबलपुर, मंदसौर और सीहोर में 1-1 नये संक्रमित मिले, जबकि राज्य के 40 जिलों में आज कोरोना के नये मामले शून्य रहे। राज्य में आज कोरोना से कोई मौत नहीं हुई है। यहां 18 दिन से मृतकों की संख्या 10,735 पर स्थिर है।

प्रदेश में अब तक कुल दो करोड़ 91 लाख 77 हजार 464 लोगों के सैम्पलों की जांच की गई है। इनमें कुल 10,41,867 प्रकरण पॉजिटिव पाए गए हैं। इनमें 10,30,900 मरीज कोरोना संक्रमण से मुक्त होकर अपने घर पहुंच चुके हैं। 33 मरीज शुक्रवार को स्वस्थ हुए। अब यहां सक्रिय प्रकरणों की संख्या 230 से बढ़कर 232 हो गई है। हालांकि, खुशी की बात यह भी है कि राज्य के 29 जिले पूरी तरह कोरोना संक्रमण से मुक्त हो चुके हैं। इन जिलों में अब कोरोना का एक भी सक्रिय मरीज नहीं है।

इधर, प्रदेश में 13 मई को शाम छह बजे तक 23 हजार 141 लोगों का टीकाकरण किया गया। इन्हें मिलाकर राज्य में अब तक वैक्सीन की 11 करोड़, 82 लाख, 45 हजार 447 डोज लगाई जा चुकी है। (एजेंसी, हि.स.)

Share:

Next Post

एमआरएसएएम: अब दुश्मन की खैर नहीं

Sat May 14 , 2022
– योगेश कुमार गोयल रक्षा अनुसंधान एवं विकास संगठन (डीआरडीओ) द्वारा हवा में मार करने वाली मध्यम दूरी की दो मिसाइलों ‘एमआरएसएएम’ (मीडियम रेंज सरफेस टू एयर मिसाइल) का पिछले दिनों सतह से सफल परीक्षण किया गया। सेना के लिए तैयार इन मिसाइलों को उड़ीसा के चांदीपुर स्थित एकीकृत परीक्षण रेंज (आईटीआर) से दागा गया […]