विदेश

अफगानिस्तान में भारत के 400 प्रोजेक्ट, कोने-कोने में है निवेश : विदेश मंत्री जयशंकर

नई दिल्ली. विदेश मंत्री एस. जयशंकर (Foreign Minister S. Jaishankar) ने अफगानिस्तान 2020 कॉन्फ्रेंस (Afghanistan2020 Conference) को संबोधित करते हुए कहा कि शांति प्रक्रिया अफगानिस्तान की अगुआई में होनी चाहिए. साथ ही पड़ोसी देश में हिंसा रोकने के लिए तत्काल और व्यापक स्तर पर सीजफायर होना चाहिए. विदेश मंत्रालय (MEA) के प्रवक्ता अनुराग श्रीवास्तव ने बताया कि कॉन्फ्रेंस में विदेश मंत्री ने कहा कि शांति प्रक्रिया पर अफगानिस्तान की पकड़ होना बहुत जरूरी है. विदेश मंत्री ने कहा कि भारत ने अफगानिस्तान में बहुत ज्यादा निवेश किया है. अफगानिस्तान का कोई भी हिस्सा भारत के 400 से ज्यादा प्रोजेक्ट्स से अछूता नहीं है. सभी 34 प्रांतों में भारत विकास से जुड़े प्रोजेक्ट्स पर काम कर रहा है.

बता दें कि विदेश मंत्री मंगलवार को तीन देशों की यात्रा पर रवाना हुए. एस. जयशंकर बहरीन, संयुक्त अरब अमीरात और सेशेल्स की छह दिवसीय यात्रा पर जाएंगे. कोरोना संकट के समय हो रही ये यात्रा काफी महत्वपूर्ण है. विदेश मंत्री सबसे पहले बहरीन जाएंगे और इसके बाद उनका संयुक्त अरब अमीरात जाने का कार्यक्रम है. दौरे के आखिर में विदेश मंत्री सेशेल्स जाएंगे. बता दें कि बहरीन के प्रधानमंत्री प्रिंस अल खलीफा बिन सलमान का हाल ही में निधन हो गया था. इस दौरान बहरीन के नेताओं के साथ द्विपक्षीय, क्षेत्रीय और अंतरराष्ट्रीय मुद्दों पर भी बातचीत होगी. बहरीन में प्रवासी भारतीयों की संख्या काफी ज्यादा है. तकरीबन 3 लाख से ज्यादा भारतीय बहरीन में रहते हैं.

Next Post

दुनिया के दूसरे सबसे अमीर शख्स बने 'एलन मस्क' बिल गेट्स को पीछे छोड़ा

Tue Nov 24 , 2020
दुनियाभर के देशों में कोरोना के चलते आर्थिक माहौल है। इसी दौरान पूरी दुनिया में कई लोगों की नौकरी चली गई। कई लोगों को व्यापार में करोड़ों का घाटा उठाना पड़ा। परंतु वहीं, कई देशों में ऐसे बड़े व्यापारी भी हैं, जिनकी संपत्ति में इस दौरान ही करोड़ों का इजाफा हुआ है। इसी कड़ी में […]