इंदौर

हाईकोर्ट में 128 वकीलों की पैनल लॉयर की फौज तैनात


नए सरकारी वकीलों की नियुक्ति का भी इंतजार
जज श्रीवास्तव का तबादला रद्द
इंदौर। सरकार की ओर से पैरवी के लिए हाईकोर्ट में 128 वकीलों की पैनल लॉयर्स की फौज उतार दी गई है।
सूत्रों के मुताबिक सरकार बदलने के बाद हाईकोर्ट में सरकारी वकीलों की नियुक्ति रद्द कर दी गई थी और नए वकीलों की नियुक्ति नहीं की गई थी, जिससे वीडियो कांफ्रेंसिंग से सुनवाई के चलते काम प्रभावित हो रहा था और सरकार को पैरवी करने में दिक्कत आ रही थी। इसके चलते हाईकोर्ट में 128 वकीलों की पैनल लॉयर की सूची कल विधि विभाग ने जारी कर दी। अब ये वकील मानदेय के आधार पर सरकार का पक्ष रखेंगे। इसके बाद अब जल्दी ही सरकारी वकीलों की नियुक्ति होने की संभावना जताई जा रही है। फिलहाल विधि जगत में इन नियुक्तियों का इंतजार हो रहा है।

जज उमेशकुमार श्रीवास्तव का तबादला आदेश हाईकोर्ट ने रद्द कर दिया है। अपर सत्र न्यायाधीश श्रीवास्तव यहां सीबीआई की विशेष अदालत का जिम्मा भी संभाल रहे हैं। गत दिनों हाईकोर्ट ने उन्हें इंदौर से स्थानांतरित करते हुए बैढऩ (जिला सिंगरौली) में फैमिली कोर्ट में प्रधान न्यायाधीश की हैसियत से पदस्थ करने का आदेश जारी किया था। कल रजिस्ट्रार जनरल आरके वाणी ने यह आदेश रद्द कर दिया। अब वे यहां पूर्ववत अपना कार्य करते रहेंगे।

 

Next Post

पश्चिम बंगाल में सस्‍ती होगी शराब, बिक्री घटने से सरकार ने लिया टैक्‍स घटाने का फैसला

Thu Aug 20 , 2020
कोलकाता। पश्चिम बंगाल सरकार शराब पर लगने वाले अतिरिक्‍त 30 प्रतिशत टैक्‍स को वापस ले सकती है। कोरोना वायरस महामारी से लड़ने के लिए अतिरिक्‍त राजस्‍व जुटाने हेतु राज्‍य सरकार ने शराब की बिक्री पर लॉकडाउन के बाद शराब बिक्री पर 30 प्रतिशत अतिरिक्‍त टैक्‍स लगाया था। इसके बाद से राज्‍य में शराब की बिक्री में […]