देश

AAP नेता संजय सिंह की बढ़ सकती हैं मुश्किलें, एमपी-एमएलए कोर्ट ने जारी की जमानती वारंट

नई दिल्ली। आम आदमी पार्टी के राज्यसभा सांसद संजय सिंह की मुश्किलें बढ़ सकती हैं। दरअसल सुल्तानपुर जिले के एमपी एमएलए कोर्ट ने गुरुवार को संजय सिंह के खिलाफ जमानती वारंट जारी किया है। दरअसल संजय सिंह के खिलाफ यह वारंट तीन साल पुराने कोविड 19 मानदंडों के उल्लंघन मामले को लेकर जारी की गई है। संजय सिंह इस मामले की सुनवाई के वक्त कोर्ट में उपस्थित नहीं हो रहे थे, इस कारण कोर्ट की तरफ से संजय सिंह के खिलाफ जमानती वारंट जारी किया गया है। पब्लिक प्रोसीक्यूटर वैभव पांडे ने कहा कि आम आदमी पार्टी के नेता पहले भी कई सुनवाई में अनुपस्थित रहे हैं।


बता दें कि मिजिस्ट्रेट शुभम वर्मा ने संजय सिंह की अनुपस्थिति के लिए उनके खिलाफ जमानती वारंट जारी करने का आदेश दिया है। वकील ने बताया कि यह मामला 13 अप्रैल 2021 के संजय सिंह के एफआईआर से संबंधित है। पांडे ने कहा कि राज्यसभा सांसद संजय सिंह पर आरोप है कि उन्होंने हसनपुर गांव में बिना अनुमति के आम आदमी पार्टी की एक बैठक की थी। इस बैठक में करीब 50-60 लोग शामिल हुए थे। महामारी रोग अधिनियम और अन्य कानूनों के उल्लंघन करने का आरोप संजय सिंह के ऊपर लगा है।

वकील ने बताया कि पुलिस ने संजय सिंह, मकसूद अंसारी, सलीम अंसारी, जगदीश यादव, मकसूद, सुकई, धर्मराज, जीशान, सहबान, सिकंदर, जलील और अजय के खिलाफ कोर्ट में चार्जशीट दाखिल की। उन्होंने बताया कि इस मामले में जो अन्य आरोपी थे, उन्हें जमानत मिल गई है। हालांकि संजय सिंह किसी भी सुनवाई में शामिल नहीं हो रहे थे। इस कारण उनके खिलाफ जमानती वारंट जारी किया गया है। पांडे ने बताया कि इस मामले में अगली सुनवाई 29 जून को की जाएगी। अब देखना ये है कि क्या संजय सिंह इस सुनवाई में शामिल होंगे या नहीं।

Share:

Next Post

शिवसेना नेता ने ठाकरे पर साधा निशाना, बोले- 'उद्धव ने बालासाहेब से की गद्दारी'

Thu Jun 20 , 2024
मुंबई। महाराष्ट्र की राजनीति लोकसभा चुनाव के बाद से ही गरमाई हुई है। महायुति अपनी हार को लेकर परेशान है तो एमवीए आगामी विधानसभा में अधिक सीटें पाने की कोशिश में लग गए हैं। इधर शिवसेना नेता संजय शिरसाट ने उद्धव ठाकरे पर अब सीधा हमला बोला है। उन्होंने कहा कि उद्धव ठाकरे ने बालासाहेब […]