इंदौर न्यूज़ (Indore News) राजनीति

इंदौर की 8 विधानसभा सीटों पर ‘आप’ के 19 दावेदार

शहर के 4 विधानसभा क्षेत्रों में तीन-तीन दावेदार, महू से अब तक किसी की दावेदारी नहीं

इंदौर, विकाससिंह राठौर। मध्यप्रदेश (MP) में विधानसभा चुनाव (Election) की तारीखों का ऐलान अभी नहीं हुआ है, लेकिन राजनीतिक हलचल तेज हो गई है। सत्तारूढ़ भारतीय जनता पार्टी द्वारा 39 विधानसभा क्षेत्रों के लिए अपने उम्मीदवारों की पहली सूची जारी करने के बाद दूसरे राजनीतिक दल भी टिकट चयन प्रक्रिया को लेकर सक्रिय हो गए हैं। मध्यप्रदेश में तीसरे विकल्प के रूप में मानी जाने वाली आम आदमी पार्टी (आप) ने भी टिकट के दावेदारों से आवेदन बुलाए हैं। इंदौर जिले की नौ में से आठ विधानसभा सीटों के लिए अब तक 19 नेताओं ने दावेदारी की है। वहीं महू (Mhow) विधानसभा क्षेत्र से टिकट के लिए अब तक एक भी आवेदन नहीं आया है। हालांकि टिकटों की घोषणा पार्टी की सेंट्रल कमेटी द्वारा की जाएगी।


आवेदन की इस प्रक्रिया के साथ ही आम आदमी पार्टी इंदौर सहित मध्यप्रदेश में आम लोगों के बीच सर्वे भी करवा रही है, जिसमें यह जानने की कोशिश हो रही है कि उनके विधानसभा क्षेत्र से किस चेहरे को चुनाव मैदान में उतारना बेहतर होगा। दिल्ली और पंजाब के विधानसभा चुनाव में जीत का परचम फहराने और मध्यप्रदेश के नगरीय निकाय चुनाव में ठीक-ठाक प्रदर्शन के बाद अरविंद केजरीवाल के नेतृत्व वाली आम आदमी पार्टी उत्साह के घोड़े पर सवार है। वह खुद को तीसरे विकल्प के रूप में पेश करना चाहती है और प्रदेश की सभी 230 सीटों पर अपने उम्मीदवार उतारने की तैयारी में जुटी है। हालांकि 2018 के विधानसभा चुनाव में पार्टी को कड़वे अनुभव का सामना करना पड़ा था और भाजपा तथा कांग्रेस के बीच हुए कांटे के मुकाबले में आम आदमी पार्टी के ज्यादातर उम्मीदवार अपनी जमानत भी नहीं बचा पाए थे।

चुनाव लड़ चुके चार उम्मीदवारों ने फिर जताई दावेदारी

पार्टी की प्रक्रिया के तहत जो भी नेता-कार्यकर्ता चुनाव में उतरना चाहता है उसे आवेदन जमा करना है। इसी प्रक्रिया के तहत अब तक जो 19 नाम मिले हैं, उनमें चार नाम ऐसे भी हैं, जो पिछले विधानसभा चुनाव में दावेदारी जता चुके हैं। इनमें विधानसभा 1 से सतीश मलिक, 3 से मकसूद खान, 5 से शैली राणावत और देपालपुर से बहादुरसिंह मंडलोई शामिल हैं।

सभी सीटों पर जमानत जब्त, सबसे ज्यादा 1800 वोट 2 नंबर से मिले थे

पिछले विधानसभा चुनाव की बात करें तो इंदौर में पार्टी ने सभी नौ सीटों पर अपने उम्मीदवार खड़े किए थे, लेकिन सभी सीटों पर उन्हें बुरी तरह हार का सामना करना पड़ा था और कोई भी प्रत्याशी अपनी जमानत तक नहीं बचा पाया था। पार्टी को सबसे ज्यादा वोट विधानसभा 2 से मिले थे, जिनकी संख्या 1800 के करीब थी।

2018 में 218 सीटों पर चुनाव लड़ी थी पार्टी

इससे पहले 2018 में हुए विधानसभा चुनाव में पार्टी ने प्रदेश की 230 विधानसभा सीटों में से 218 पर अपने उम्मीदवार उतारे थे। कई स्थानों पर पार्टी को चुनाव लडऩे के लिए उम्मीदवार तक नहीं मिले थे। वहीं कई स्थानों पर पर्चा दाखिल करने के बाद उम्मीदवार पीछे हट गए थे। सभी स्थानों पर पार्टी को करारी हार मिली थी। इसे देखते हुए इस बार नाम चयन को लेकर पार्टी बहुत गंभीर है।

इंदौर की विधानसभा सीटों से इनकी उम्मीदवारी

विधानसभा-1 अनुराग यादव, एडवोकेट आमोद गुप्ता, सतीश मलिक
विधानसभा-2 कमलेश मालवीय, मनोज यादव (जिला अध्यक्ष), हेमंत जोशी (प्रदेश प्रवक्ता)
विधानसभा-3 अनवर दहलवी, नासिर खोकर, मकसूद खान
विधानसभा-4 डॉ. पीयूष जोशी, सतीश शर्मा (पिछली बार सपाक्स से लड़े थे), हेमंत आहूजा
विधानसभा-5 शैली राणावत (लोकसभा प्रभारी), कासिब खान
राऊ नवदीप शर्मा
सांवेर निर्मल चौहान, दीपिका सिंह
देपालपुर गोकुल पंवार, बहादुरसिंह मंडलोई

सेंट्रल कमेटी लेगी अंतिम निर्णय

आम आदमी पार्टी प्रदेश में होने जा रहे विधानसभा चुनाव के लिए पूरी तरह तैयार है। पार्टी की प्रक्रिया के तहत दावेदारों ने अपने आवेदन दिए हैं। पार्टी इन पर विचार कर रही है। प्रत्याशियों को लेकर अंतिम निर्णय पार्टी की सेंट्रल कमेटी द्वारा लिया जाएगा। प्रदेश के उम्मीदवारों की पहली सूची 15 सितंबर के पहले जारी हो सकती है। -मुकेश उपाध्याय, प्रदेश उपाध्यक्ष, आप

Share:

Next Post

कल मोबाइल लुटेरों का बुरा दिन, अलग-अलग जगह से 6 पकड़ाए

Sat Aug 26 , 2023
इंदौर। दो दिन पूर्व स्कीम नंबर 78 स्थित सिका स्कूल (Sika School) के पास निपानिया (Nipania) निवासी रितिक राजपूत से मोबाइल (Mobile) लूटने वाले फरहान पिता मोहम्मद इलियास निवासी दयानंद कालोनी तथा समीर पिता शरीफ पटेल निवासी राधे विहार कालोनी को पकड़ा गया। आरोपियों से मोबाइल जब्त कर लिया गया है। इनसे पुरानी घटनाओं के […]