उज्‍जैन न्यूज़ (Ujjain News) बड़ी खबर मध्‍यप्रदेश

महाशिवरात्रि पर की गई व्यवस्थाओं की श्रद्धालुओं ने की प्रशंसा

उज्जैन। महाशिवरात्रि पर्व (mahashivratri festival) पर मंगलवार को लाखों श्रद्धालुओं ने अल सुबह से देर शाम तक विश्व प्रसिद्ध ज्योतिर्लिंग भगवान महाकाल (World famous Jyotirlinga Lord Mahakal) के दर्शन कर पूजन-अर्चन किया। देश के कोने-कोने से श्रद्धालु भगवान महाकालेश्वर ( भगवान महाकालेश्वर) के दर्शन के लिये उज्जैन आए। आगन्तुकों की संख्या को ध्यान में रखते हुए जिला प्रशासन द्वारा पहले से ही सभी व्यवस्थाएं चाक-चौबन्द की गई थी। प्रशासन द्वारा नि:शुल्क फोरव्हीलर व टूव्हीलर पार्किंग, नि:शुल्क जूता स्टेण्ड, नि:शुल्क फलाहार केन्द्र, पेयजल, आकस्मिक चिकित्सा केन्द्र, दिव्यांगजनों के लिये नि:शुल्क ई-रिक्शा की व्यवस्था श्रद्धालुओं के लिये की गई थी।



 

जयपुर राजस्थान से आये व्यापारी गौरव थावानी ने प्रशासन की ओर से की गई व्यवस्थाओं की प्रशंसा की। उन्होंने कहा कि काफी कम समय में वे भगवान महाकालेश्वर के दर्शन कर सके। सभी व्यवस्थाएं बहुत अच्छी थी। उन्हें लग रहा था कि दर्शन में समय लगेगा, क्योंकि श्रद्धालुओं की संख्या बहुत अधिक थी, लेकिन अपेक्षाकृत दर्शन काफी सुगमता से हुए।

 

इन्दौर से आये श्रद्धालु मृणमय पाल ने बताया कि काफी कम समय में उन्हें भगवान के दर्शन हुए। प्रशासन की ओर से जगह-जगह श्रद्धालुओं की आवश्यकता को ध्यान में रखते हुए व्यवस्थाएं की गई थी। नि:शुल्क जूता स्टेण्ड की व्यवस्था काफी अच्छी थी। उन्हें इस दौरान किसी प्रकार की असुविधा नहीं हुई।

 

भोपाल से अपने परिवार के साथ दर्शन करने आये डॉ.श्याम जायसवाल ने बताया कि उज्जैन आने के बाद इतनी भीड़ होने के बावजूद उन्हें सुव्यवस्थित तरीके से भगवान के दर्शन हुए। प्रशासन की ओर से सभी व्यवस्थाएं काफी अच्छी की गई थी। मन्दिर जाने के लिये नि:शुल्क ई-रिक्शा की व्यवस्था भी की गई थी। इससे उन्हें अनावश्यक भटकना नहीं पड़ा। पुलिस और प्रशासन का रवैया श्रद्धालुओं के प्रति काफी सहयोगात्मक था।

 

डॉ. श्याम जायसवाल की पत्नी शिवानी जायसवाल ने बताया कि आज उनके परिवार में सभी का महाशिवरात्रि का व्रत था। उन्हें लग रहा था कि वाहन पार्क करने के बाद उन्हें काफी दूर तक चलकर जाना होगा, लेकिन सभी लोग ई-रिक्शा में बैठकर आसानी से मन्दिर के समीप पहुंच सके।

 

भोपाल से आये नीलेश यादव ने बताया कि यहां पर की गई नि:शुल्क पार्किंग व्यवस्था काफी अच्छी है। वे अपने पूरे परिवार के साथ दर्शन के लिये आये थे। उन्हें किसी प्रकार की कोई समस्या नहीं हुई।

 

रायसेन से आये मोनू यादव ने कहा कि उन्हें भीड़ देखकर लगा था कि उन्हें दर्शन में बहुत समय लगेगा, लेकिन ऐसा नहीं हुआ। प्रशासन की चाक-चौबन्द व्यवस्था के फलस्वरूप उन्हें काफी कम समय में भगवान के दर्शन हुए और पूरे परिवार ने भगवान का दर्शन लाभ लेकर आनन्द प्राप्त किया। उन्हें कहीं भी पार्किंग की इतनी अच्छी व्यवस्था पहले नहीं मिली।

 

महाराष्ट्र के नन्दुरबार जिले से आये विनोद पंवार ने अपने परिवार के 11 सदस्यों के साथ भगवान महाकालेश्वर के दर्शन का लाभ लिया। यहां की गई व्यवस्थाओं से वे और उनका परिवार काफी अभिभूत हुआ। उन्होंने कहा कि प्रशासन द्वारा नि:शुल्क फलाहार व्यवस्था बहुत अच्छी की गई है। इससे दर्शनार्थियों को फलाहार के साथ थोड़ा विश्राम करने के लिये भी अनुकूल जगह प्राप्त हुई।

 

देश के कोने-कोने से आये श्रद्धालुओं का दिनभर आवागमन महाशिवरात्रि पर्व पर होता रहा। सभी ने एक स्वर में यहां की व्यवस्थाओं की प्रशंसा की। उन्होंने कहा कि वे अपने-अपने शहरों में जाकर उज्जैन के विश्व प्रसिद्ध महाकालेश्वर मन्दिर और यहां की व्यवस्थाओं के बारे में बतायेंगे।

 

Share:

Next Post

Ukraine में MBBS की पढ़ाई कर रहा सागर का दूसरा छात्र सकुशल अपने घर लौटा

Tue Mar 1 , 2022
सागर। यूक्रेन (Ukraine) में एमबीबीएस (MBBS) की पढ़ाई कर रहे सागर जिले के बीना विकासखंड निवासी शाश्वत पुत्र धर्मेंद्र जैन मंगलवार शाम को सकुशल अपने घर लौट आए। शाश्वत ने बताया कि आने में परेशानी अवश्य हुई, किन्तु हम शाम को सकुशल लौट आए।   शाश्वत के पिता धर्मेंद्र जैन ने बताया कि देश के […]