देश

TMC नेता अनुब्रत मंडल को ED ने किया गिरफ्तार

नई दिल्ली: पश्चिम बंगाल (West Bengal) में पशु तस्करी घोटाले से जुड़े मनी लॉन्ड्रिंग मामले में टीएमसी नेता अनुब्रत मंडल (TMC leader Anubrata Mandal) को सीबीआई के बाद अब ईडी ने गिरफ्तार कर लिया है. जांच कर रहे प्रवर्तन निदेशालय (Enforcement Directorate) ने गुरुवार को आसनसोल सुधार गृह (Asansol Correctional Facility) में बंद बीरभूम से टीएमसी नेता अनुव्रत मंडल से कड़ी पूछताछ की. ईडी ने अनुब्रत से करीब ,साढ़े पांच घंटे तक पूछताछ की, इस दौरान जांच एजेंसी उनके जवाबों से संतुष्ट नहीं हो सकी. पूछताछ के बाद ईडी ने उनको गिरफ्तार कर लिया.

जेल में करीब साढ़े पांच घंटे तक ईडी ने अनुब्रत से पूछताछ की. इस दौरान उनके जवाब में विरोधाभास मिलने के बाद ईडी ने टीएमसी नेता को गिरफ्तार कर लिया.जानकारी के मुताबिक पूछताछ में अनुब्रत ईडी को ये नहीं बता पाए कि उनके अकाउंट में करोड़ों रुपए कहां से आए.वह इसका बिल्कुल सटीक जवाब जांच एजेंसी को नहीं दे सके.

बता दें कि पूछताछ के लिए ईडी की टीम आज आसनसोल सुधार गृह पहुंची थी. सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक प्रवर्तन निदेशालय ने पहले अनुब्रत की बेटी सुकन्या से पूछताथ की थी. बेटी से पूछताछ के बाद प्रवर्तन निदेशालय ने जेल पहुंचकर टीएमसी नेता से पूछताछ की. टीएमसी नेता की बेटी सुकन्या ने बताया था कि उनके पिता को सभी वित्तीय खातों और लेनदेन की पूरी जानकारी थी.

प्रवर्तन निदेशालय ने सुकन्या से दिल्ली ईडी ऑफिस में पूछताछ की थी. जिसके बाद अनुब्रत से सुधार गृह में पूछताथ की गई.सूत्रों ने कहा कि केंद्रीय जांच एजेंसी के अधिकारियों ने मंडल से सुधार गृह में पूछताछ के लिये इजाजत मांगी थी. इससे पहले मंडल की बेटी सुकन्या ने पूछताछ के दौरान एजेंसी के अधिकारियों को बार-बार बताया था कि उसके पिता को ही उन वित्तीय खातों व लेन-देन की जानकारी है, जिसके बारे में ईडी उनसे पूछताछ कर रही है.

घोटाले के सिलसिले में प्रवर्तन निदेशालय (ईडी)पहले ही दिल्ली स्थित अपने कार्यालय में सुकन्या मंडल से पूछताछ कर चुका है.टीएमसी के बीरभूम जिला अध्यक्ष अनुब्रत मंडल को केंद्रीय अन्वेषण ब्यूरो (सीबीआई) ने अगस्त में पशु तस्करी में कथित संलिप्तता के लिए गिरफ्तार किया था और मामले में एजेंसी द्वारा दायर आरोपपत्र में भी उनका नाम था.सीबीआई ने मंडल के पूर्व सिक्योरिटी गार्ड सहगल हुसैन को भी गिरफ्तार किया था. ईडी ने अपने आरोप पत्र में उसे मुख्य आरोपी के रूप में नामित किया था.इसके बाद ईडी ने हुसैन को अपनी हिरासत में ले लिया था.

Share:

Next Post

सऊदी अरब जाने वाले भारतीय नागरिकों के लिए खुशखबरी

Thu Nov 17 , 2022
नई दिल्ली। भारत और सऊदी अरब (India and Saudi Arabia) के बीच लगातार मजबूत होते संबंधों में गुरुवार को एक नया अध्याय जुड़ा। सऊदी अरब ने फैसला किया है कि अब भारतीय नागरिकों (Indian citizens) को उसके देश का वीजा हासिल करने के लिए पुलिस क्लीयरेंस सर्टिफिकेट (पीसीसी) जमा करने की जरूरत नहीं होगी। दिल्ली […]