देश भोपाल मध्‍यप्रदेश

जिनोम सीक्वेंसिंग की मशीन अब भोपाल में, होगी डेल्टा प्लस की जांच

भोपाल। चिकित्सा शिक्षा मंत्री  विश्वास कैलाश सारंग ने कहा है कि मध्यप्रदेश में 5 डेल्टा प्लस के केस सामने आए हैं। भोपाल में तीन और उज्जैन में दो। कांटेक्ट ट्रेसिंग लगातार की जा रही है। मुख्यमंत्री  शिवराज सिंह चौहान ने निर्देश दिए हैं कि हम टेस्ट कम नहीं करेंगे। मुख्यमंत्री ने केंद्र सरकार से भी बात की है। श्री सारंग ने बताया की जीनोम सीक्वेंसिंग की मशीन अब भोपाल में लगाई जायेगी, जिससे बदलते कोरोना स्ट्रेन की जाँच हो सकेगी।

मध्यप्रदेश में कोरोना के नये मामलों (new cases of corona in Madhya Pradesh) में निरंतर कमी आ रही है और अब यह संख्या 100 से नीचे पहुंच गई है। यहां बीते 24 घंटों में कोरोना के 62 नये मामले सामने आए हैं, जबकि 22 लोगों की मौत हुई है। इसके बाद राज्य में संक्रमितों की कुल संख्या सात लाख, 89 हजार, 561 और मृतकों की संख्या आठ हजार 849 हो गई है।
यह जानकारी स्वास्थ्य विभाग द्वारा गुरुवार देर शाम जारी कोरोना से संबंधित हेल्थ बुलेटिन में दी गई। नये मामलों में भोपाल-15, इंदौर-10 के अलावा अन्य जिलों में 10 से कम नये मरीज मिले हैं, जबकि राज्य के 31 जिले ऐसे भी हैं, जहां आज नये प्रकरण शून्य रहे। राज्य के तीन जिले-खंडवा, अलीराजपुर और बुरहानपुर कोरोना संक्रमण से पूरी तरह मुक्त हो चुके हैं। इन तीनों जिलों में अब कोरोना के एक भी सक्रिय प्रकरण नहीं हैं।

Next Post

वैक्सीनेशन महाअभियान में अभी तक लगभग 36 लाख डोज लगाये गये

Thu Jun 24 , 2021
भोपाल! मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान (Chief Minister Shivraj Singh Chouhan) ने कहा है कि प्रदेश में 21 जून से चलाए जा रहे टीकाकरण महाअभियान के अंतर्गत अब तक लगभग 36 लाख व्यक्तियों को कोरोना वैक्सीन (corona vaccine) लगायी जा चुकी है। हमें मध्यप्रदेश में शीघ्र ही पूर्ण टीकाकरण के लक्ष्य को पूरा कर हर व्यक्ति […]
covid