बड़ी खबर

कल होगा गोगामेड़ी का अंतिम संस्कार, करणी सेना ने खत्म किया आंदोलन, प्रशासन ने मानी ये मांगें

नई दिल्ली: सुखदेव सिंह गोगामेड़ी हत्याकांड (Sukhdev Singh Gogamedi murder case) को लेकर जयपुर (Jaipur) में चल रहा प्रदर्शन अब खत्म हो गया है. प्रदर्शनकारियों (protesters) का दावा है कि प्रशासन ने उनकी मांगों को मान लिया है. अब शुक्रवार को गोगामेड़ी का अंतिम संस्कार (Gogamedi’s last rites) किया जाएगा. बता दें कि श्री राष्ट्रीय राजपूत करणी सेना के राष्ट्रीय अध्यक्ष (National President of Rashtriya Rajput Karni Sena) सुखदेव सिंह गोगामेड़ी की जयपुर में उनके आवास पर हत्या कर दी गई थी. मिलने के बहाने आए दो लोगों ने इस हत्याकांड को अंजाम दिया था. हत्याकांड का सीसीटीवी भी सामने आया था, जिसमें हत्यारे ताबड़तोड़ गोलियां चलाते हुए दिख रहे हैं. हत्याकांड के बाद जयपुर में अलग-अलग गुट प्रदर्शन में जुटे थे. कुछ गुट अभी भी प्रदर्शन पर बैठे हैं, हालांकि, कई नेता अब प्रशासन की बात मान गए हैं.

प्रशासन ने प्रदर्शनकारियों की ये शर्तें मानी
– हत्याकांड की NIA जांच
– खामियों की न्यायिक जांच
– गोगामेड़ी के परिवार को सुरक्षा
– गोगामेड़ी के परिवार के एक सदस्य को सरकारी नौकरी


प्रदर्शन में शामिल राजेंद्र गुढ़ा ने बताया कि प्रशासन ने उनकी ये सभी मांग मान ली है. इसके बाद विधायक मनोज न्यांगली और राजेंद्र गुढ़ा भी प्रदर्शन स्थल से चले गए हैं. अब सुखदेव सिंह गोगामेड़ी के पार्थिव शरीर को जयपुर के राजपूत भवन में रखा जाएगा. यहां लोग उनके अंतिम दर्शन कर सकेंगे. इसके बाद शव को हनुमानगढ़ के गोगामेड़ी भेजा जाएगा. यहीं उनका अंतिम संस्कार किया जाएगा. राष्ट्रीय राजपूत करणी सेना के प्रमुख सुखदेव सिंह गोगामेड़ी की हत्या के बाद उनके समर्थकों ने राजस्थान में बंद का आह्वान किया था. आज बंद के दौरान जयपुर समेत कई शहरों से उग्र प्रदर्शन की तस्वीरें आईं. शहर-शहर आगजनी और हिंसा की तस्वीरें सामने दिखीं.

जयपुर के अलावा दौसा में भी आक्रोश का वैसा ही आलम दिखा. सुबह प्रदर्शनकारी सड़कों पर उतरे. बाजार को बंद कराया और फिर टायर जलाकर प्रदर्शन करने लगे. मेंहदीपुर बालाजी बाजार को भी प्रदर्शनकारियों ने बंद करा दिया था. इस बीच हत्याकांड की जांच के लिए राजस्थान के डीजीपी ने SIT का गठन कर दिया है. इसका जिम्मा IPS दिनेश एनएम को सौंपा गया है. पुलिस ने दोनों फरार हमलावरों की पहचान भी कर ली है. उनकी तलाश के बीच पुलिस ने आरोपियों पर 5-5 लाख का इनाम भी घोषित कर दिया है.

आरोपियों की पहचान रोहित राठौर (नागौर निवासी) और नितिन फौजी (हरियाणा के महेंद्रगढ़ का रहने वाला) के रूप में हुई है. सुखदेव सिंह गोगामेड़ी की हत्या और उसके बाद के तीन CCTV फुटेज सामने आए थे. पहले फुटेज में बदमाश हत्या करते दिख रहे हैं. दूसरे में घर के बाहर फायरिंग हो रही है. इसमें गोगामेड़ी के गार्ड की तरफ से भी क्रॉस फायरिंग की गई. वहीं, तीसरे फुटेज में दोनों बदमाश हत्या के बाद सड़क पर भागते दिख रहे हैं.

Share:

Next Post

6 दिसंबर की 10 बड़ी खबरें

Wed Dec 6 , 2023
1. छत्तीसगढ़ में ओबीसी नेता को बनाया जा सकता है मुख्यमंत्री, दो डिप्टी CM बनाये जाने की भी संभावना मध्य प्रदेश, राजस्थान और छत्तीसगढ़ (Chhattisgarh) में मुख्यमंत्री के पद (Chief Minister’s post) को लेकर एक अनार सौ बीमार जैसी स्थिति बनी हुई है। मध्यप्रदेश की जीत में शिवराज सिंह चौहान ‘क्रेडिट’ ले रहे हैं। जबकि […]