इंदौर न्यूज़ (Indore News)

17 करोड़ की लागत से बन रहे नए जिला अस्पताल पर 50 करोड़ रुपए खर्च करेगी सरकार

  • 100 बेड वाली नई बिल्डिंग का बेसिक स्ट्रक्चर 300 बेड के हिसाब से हो रहा तैयार

इंदौर। धार रोड (Dhar Road) पर नया जिला अस्पताल (New District Hospital) 100 मेडिकल बेड की क्षमता वाला बनाया जा रहा है, मगर इसका बेसिक फाउंडेशन स्ट्रक्चर (Foundation Structure) इस हिसाब से तैयार किया जा रहा कि आने वाले समय में इसका विस्तार कर 300 बेड का बनाया जा सके। फिलहाल जी प्लस 2 बिल्डिंग बनाने के लिए 17 करोड़ रुपए का बजट रखा गया है, मगर इसका विस्तार करते हुए जी प्लस 4 मंजिला बनाया जाएगा। इसके विस्तार के लिए सरकार लगभग 50 करोड़ रुपए से ज्यादा खर्च करेगी।

कल एसीएस मोहम्मद सुलेमान (ACS Mohammad Suleman) कलेक्टर मनीषसिंह (Collector Manish Singh) के साथ मार्च 2021 से बन रहे 100 बेड की क्षमता वाले नए जिला अस्पताल का मुआयना करने पहुंचे। निर्माणाधीन नए जिला अस्पताल का मुआयना करने के बाद उन्होंने फिलहाल नक्शे के अनुसार बनाए जा रहे कैजुअल्टी वार्ड के बारे में हाउसिंग बोर्ड के इंजीनियरों को निर्देश दिए कि इमरजेंसी वार्ड को इतना बड़ा बनाया जाए कि यह 300 बेड के हिसाब से या आने वाले समय में छोटा न पड़े। हाउसिंग बोर्ड के इंजीनियरों ने कहा कि ग्राउंड फ्लोर पर अब इमरजेंसी वार्ड ही बनाया जाएगा। इसके अलावा उन्होंने जिला अस्पताल के सर्जन डॉक्टर प्रदीप गोयल को बताया कि यहां एमआरआई जांच की मशीन लगाने का प्रस्ताव मंजूर हो गया है।


यानी अब जिला अस्पताल में सीटी स्कैन के साथ एमआरआई, सोनोग्राफी सहित सभी जांचें होंगी। इसके साथ ही ट्रामा सेंटर का निर्माण किया जाएगा। हाउसिंग बोर्ड के इंजीनियर के अनुसार मार्च 2021 में जी प्लस 2 मंजिला भवन बनाने के लिए 17 करोड़ रुपए का बजट पास हुआ है। टेंडर के हिसाब से इसे 18 महीने में बनकर तैयार होना था, मगर कोरोना संक्रमण के चलते निर्माण कार्य अटक गया, इसलिए इसके निर्माण में विलंब हो रहा है। यानी अभी नए जिला अस्पताल के लिए जनता को साल 2023 तक इंतजार करना पड़ेगा। जी प्लस 2 मंजिला बिल्डिंग का काम पूरा होने के बाद इसका 300 बेड के हिसाब से जी प्लस 4 के लिए विस्तार किया जाएगा। इसीलिए इसके हिसाब से इसका फाउंडेशन स्ट्रक्चर तैयार किया गया है।

Share:

Next Post

पेट्रोल गाड़ी जाएंगे भूल! इस इलेक्ट्रिक स्कूटर से 3 रुपये में 30KM का सफर

Wed Jul 20 , 2022
नई दिल्ली: इन दिनों इलेक्ट्रिक स्कूटरों (Electric Scooter) की मांग में तेजी आई है. महंगे होते पेट्रोल-डीजल के बीच लोग इलेक्ट्रिक स्कूटर पर शिफ्ट कर रहे हैं. लेकिन किसी भी इलेक्ट्रिक स्कूटर की डिमांड के पीछे उसकी रेंज सबसे अहम है. कोई भी इलेक्ट्रिक स्कूटर फुल चार्ज के बाद जितनी अधिक दूरी तय करेगी. उतनी […]