जिले की खबरें देश मध्‍यप्रदेश

अगर कांग्रेस ईमानदारी से काम करती तो देश में इतना भ्रष्टाचार नहीं बढ़ताः नरेंद्र सिंह तोमर

सतना/भोपाल। कांग्रेस ने आजादी के बाद लगातार 50-55 वर्षों तक देश-प्रदेश में पर राज किया। इनको लोगों की सेवा करने का भरपूर समय मिला, लेकिन इन्होंने राजनीति को सेवा का नहीं, बल्कि कमाई का जरिया बनाया। अगर कांग्रेस देश-प्रदेश में ईमानदारी से कार्य करती तो विकास होता, इतना भ्रष्टाचार नहीं बढ़ता, देश-प्रदेश से गरीबी दूर हो जाती, लेकिन इन्होंने कभी न तो गरीब की चिंता की और न ही कभी गरीबी हटाने का प्रयास किया। ये बातें केंद्रीय कृषि मंत्री श्री नरेंद्र सिंह तोमर (Union Agriculture Minister Shri Narendra Singh Tomar) ने कही। वे रैगांव विधानसभा के मैथिलीपुर में भाजपा प्रत्याशी प्रतिमा बागरी (BJP candidate Pratima Bagri) के समर्थन में विजय संकल्प सभा एवं कृषक मित्र संवाद को संबोधित कर रहे थे।

अब न दलाली होती है, न भ्रष्टाचार केंद्रीय कृषि मंत्री ने कहा कि कांग्रेस के भूतपूर्व प्रधानमंत्री राजीव गांधी कहते थे कि वे एक रूपया दिल्ली से भेजते हैं, लेकिन नीचे 15 पैसा ही पहुंचता है। 85 पैसा तो भ्रष्टाचार की भेंट चढ़ जाता था। अब यह स्थितियां नहीं हैं। अब तो प्रधानमंत्री यदि एक रूपए भेजते हैं तो वह सीधे बैंक खाते में जाता है। केंद्रीय मंत्री श्री तोमर ने कहा कि कांग्रेस के राज में दलाली जमकर चलती थी। बीच का पैसा दलाल और भ्रष्टाचार की भेंट चढ़ जाता था, लेकिन अब न तो दलाली होती है और न ही भ्रष्टाचार होता है। पहरेदार ने ही लूट शुरू कर दी थी केंद्रीय कृषि मंत्री श्री तोमर ने कहा कि 2018 के विधानसभा चुनाव में जनता ने तो खूब वोट किए, लेकिन हमारे 4-5 विधायक कम पड़ गए।


कांग्रेस ने सरकार बनाई औैर कमलनाथ को प्रदेश की पहरेदारी दे दी, लेकिन पहरेदार ने ही लूट शुरू कर दी। इन्होंने प्रदेश में 15 माह सरकार चलाई, लेकिन प्रदेश के विकास कार्यों को रोककर सिर्फ छिंदवाड़ा का विकास किया। उन्होंने कहा कि कांग्रेस ने भाजपा सरकार द्वारा शुरू की गई लाड़ली लक्ष्मी योजना, कन्यादान योजना, संबल योजना, मुख्यमंत्री तीर्थदर्शन योजना जैसी कई कल्याणकारी योजनाओं को बंद कर दिया। 15 माह के बाद जब इनकी सरकार ओंधे मुंह गिर गई तो फिर से मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने योजनाओें को शुरू करवाया। अब कांग्रेस को इसका जबाव देना चाहिए कि उन्होंने गरीबों के कल्याण के लिए चल रही योजनाओं को बंद क्यों किया? बिजली के दर्शन भगवान के दर्शन के बराबर थे केंद्रीय मंत्री श्री तोमर ने कहा कि वर्ष 2003 से पहले प्रदेश के गांवों में बिजली के दर्शन भगवान के दर्शन करने के बराबर थे। प्रदेश में 2003 से पहले 2900 मेगावॉट बिजली का उत्पादन होता था, लेकिन अब 20 हजार मेगावॉट से अधिक बिजली का उत्पादन हो रहा है।

उन्होंने कहा कि जब हम लोग विपक्ष में थे तो उस समय केवल दो ही नारे लगते थे। एक तो जब तक रहेगा दिग्गी, तब तक घर में जलेगी डिब्बी… दूसरा चारों तरफ अंधेरा है और पहरेदार लुटेरा है…। उन्होंने कहा कि पहले सड़कों की स्थिति क्या थी, लेकिन अब देश-प्रदेश के गांव-गांव को प्रधानमंत्री सड़क योजना के जरिए जोड़ दिया गया है। अब तीसरे चरण में 80 हजार करोड़ से सवा लाख किलोमीटर सड़क बनाई जाएगी। पहले किसान पानी से सिंचाई के बारे में तो सोच ही नहीं सकता था। लोगों को पेयजल ही मुश्किल से मिल पाता था, लेकिन अब गांव-गांव में नल-जल योजना के जरिए घर तक नलों से पानी पहुंचाया जा रहा है। कांग्रेस के लोग गुमराह करते हैं श्री तोमर ने कहा कि चुनाव है तो पक्ष है, प्रतिपक्ष भी है। चुनाव है तो विषय भी, प्रचार भी है और दुष्प्रचार भी है। हम सब इस बात को भलीभांति जानते हैं कि देश में कौन लोग राजनीतिक क्षेत्र में अपने स्वार्थ के लिए जनता को गुमराह करते हैं, झूठ बोलते हैं, जनता के साथ छल करते हैं और फिर इनके हाथों में सरकार आ जाए तो सिर्फ सरकार को भोगने का काम करते हैं। उन्होंने कहा कि अगर कांग्रेस ईमानदार होती, कांग्रेस विकास के पक्ष में होती, कांग्रेस गरीबी को समाप्त करना चाहती, भ्रष्टाचार को समाप्त करना चाहती तो आज प्रदेश की यह स्थिति नहीं होती।

Share:

Next Post

इंतजार की घड़ी के लिये अब चंद्रमा को देखने से पहले देखें अपनी घड़ी 

Sat Oct 23 , 2021
करवा चौथ (karva chauth) पर आकाश में टकटकी लगाकर अब न तो चांद का इंतजार करना होगा और न ही सामूहिक पूजन(mass worship)  में आमंत्रण का समय निर्धारित करने में कोई मुष्किल आयेगी। आपका चांद आपके शहर में कब उदित होगा और कितनी दूरी पर कितनी चमक के साथ होगा यह बताने नेशनल अवार्ड प्राप्त […]