विदेश

अमेरिका से दुनिया का सबसे ताकतवर लड़ाकू विमान F-35 खरीदेगा इजरायल, 3 बिलियन डॉलर मे हुई डील

तेल अवीव: इजरायल (Israel) के रक्षा मंत्रालय (Ministry of Defence) ने मंगलवार को आधिकारिक तौर पर संयुक्त राज्य अमेरिका (America) के साथ तीसरे F-35 फाइटर जेट स्क्वाड्रन (Fighter Jet Squadron) की खरीद के लिए एक समझौते पर हस्ताक्षर किए। मंत्रालय ने कहा कि अमेरिका के एक प्रतिनिधिमंडल ने 3 बिलियन डॉलर (3 billion dollars) के सौदे के लिए एक समझौता पत्र पर हस्ताक्षर किए। इस डील के तहत इजरायल को लॉकहीड मार्टिन (Lockheed Martin) द्वारा निर्मित 25 उन्नत स्टील्थ फाइटर जेट मिलेंगे। एफ-35 को दुनिया का सबसे अडवांस लड़ाकू विमान माना जाता है। यह विमान वर्टिकल टेकऑफ और लैंडिंग की खूबियों से लैस है।


2028 से शुरू होगी डिलीवरी

इजरायली रक्षा मंत्रालय ने कहा कि एफ-35 विमानों की डिलीवरी 2028 से शुरू होगी, जो प्रति वर्ष तीन से पांच के बैच में होगी। आने वाले वर्षों में इस विमान के साथ इजरायली वायु सेना के F-35I बेड़े की संख्या 75 हो जाएगी। इजरायल के 50 F-35 के मूल ऑर्डर में से अब तक केवल 39 की डिलीवरी हुई है। मंत्रालय ने कहा कि यह सौदा लगभग 3 बिलियन डॉलर का है, जिसे इजरायल को अमेरिकी सैन्य सहायता द्वारा वित्तपोषित किया गया है।

इजरायली वित्त मंत्री और रक्षा मंत्री के बीच था विवाद

खरीद को लेकर रक्षा मंत्री योआव गैलेंट और वित्त मंत्री बेत्ज़ेल स्मोट्रिच के बीच विवाद के लगभग सुलझ जाने के बाद यह हस्ताक्षर किए गए। स्मोट्रिच ने रक्षा बजट पर विचार करने के लिए नियुक्त नेसेट समिति के गठन तक हस्ताक्षर पर वीटो लगा दिया था। गैलंट ने हस्ताक्षर के बाद एक बयान में कहा कि अतिरिक्त 25 लड़ाकू विमान “अमेरिका और इजरायल के बीच रणनीतिक गठबंधन की ताकत और निकट और दूर के क्षेत्रों में इसके व्यापक प्रभावों का एक और उदाहरण हैं।”

लॉकहीड मॉर्टिन ने जताई खुशी

विमान निर्माता, लॉकहीड मार्टिन ने एक संक्षिप्त बयान में कहा कि वह “25 अतिरिक्त F-35 खरीदने के इजरायल सरकार के फैसले से प्रसन्न है।” अमेरिका के बाद इजरायल दूसरा देश है जिसे लॉकहीड मार्टिन से F-35 मिला है और उन कुछ देशों में से एक है जिन्हें अत्याधुनिक विमान को संशोधित करने की अनुमति है। रक्षा मंत्रालय ने कहा कि इजरायल और अमेरिका के बीच एक समझौते के हिस्से के रूप में, लॉकहीड मार्टिन और इंजन निर्माता, प्रैट एंड व्हिटनी ने “बेचे जाने वाले विमान घटकों के उत्पादन में इजरायली रक्षा उद्योगों को शामिल करने के लिए प्रतिबद्धता जताई है।”

Share:

Next Post

शू वेई ने कोलकाता में चीन के नए महावाणिज्यदूत का पदभार संभाला

Thu Jun 6 , 2024
कोलकाता (Kolkata) । शू वेई ने कोलकाता में नए चीनी महावाणिज्यदूत (Shu Wei Chinese Consul General) के रूप में पदभार ग्रहण कर लिया है। देर शाम एक आधिकारिक बयान में यह जानकारी दी गई। उन्होंने झा लियू (zha liu)की जगह ली। आधिकारिक बयान में कहा गया कि शू वेई एक जून को यहां पहुंचे और […]