उज्‍जैन

गोपाल मंदिर में आज मन रही जन्माष्टमी…शहर में कृष्ण जन्म की धूम

  • सांदीपनि आश्रम में बीती रात मना श्रीकृष्ण जन्मोत्सव-आज सुबह से मनाया जा रहा नंद महोत्सव-पंजरी और मिश्री का प्रसाद बंटा

उज्जैन। बीती रात सांदीपनि आश्रम में भगवान श्रीकृष्ण का जन्मोत्सव मनाया गया और मध्य रात्रि में जन्म आरती हुई। गोपाल मंदिर में आज मध्य रात्रि में श्रीकृष्ण का जन्मोत्सव मनाया जाएगा। एक दिन पहले से इसकी तैयारियाँ की जा रही थी। इधर सांदीपनि आश्रम में आज सुबह से नंदोत्सव मनाया जा रहा है और बाल गोपाल के दर्शनों के लिए श्रद्धालुओं की भीड़ उमड़ रही है। शहर में इस बार दो दिवसीय जन्माष्टमी पर्व मनाया जा रहा है। बीती रात मंगलनाथ मार्ग स्थित सांदीपनि आश्रम में जन्माष्टमी का पर्व मनाया गया। रात साढ़े 11 बजे भगवान का पंचामृत से अभिषेक किया गया और पूजन के बाद ठीक रात्रि 12 बजे जन्म आरती की गई। आश्रम को विद्युत रोशनी से सजाया गया था और रंग बिरंगे फूलों से मंदिर की सजावट की गई थी। पुजारी रूपम व्यास ने बताया कि आज सुबह 7 बजे से सांदीपनि आश्रम में नंदोत्सव मनाया जा रहा है। भक्त रात 12 बजे से ही बाल गोपाल के दर्शन कर रहे हैं। भक्तों को माखन मिश्री और पंजेरी की प्रसादी का वितरण किया जा रहा है। इधर बड़ा गोपाल मंदिर में जन्माष्टमी का पर्व आज रात्रि में मनेगा।

एक दिन पहले वैष्णव मत से जन्माष्टमी मनाई गई और आज शैव मत के अनुसार बड़े गोपाल मंदिर में यह पर्व मनाया जा रहा है। पुजारियों के अनुसार गोपाल मंदिर में आज मध्य रात्रि में भगवान श्रीकृष्ण जन्मेंगे और उनकी जन्म आरती की जाएगी। इसके बाद बाल गोपाल के दर्शनों का सिलसिला शुरु होगा और कल सुबह मंदिर परिसर में नंदोत्सव मनाया जाएगा। जन्माष्टमी पर्व की तैयारियाँ गोपाल मंदिर में एक दिन पहले से की जा रही थी। कल रात यहाँ भक्तों की भारी भीड़ थी और तैयारियाँ चल रही थी। गोपाल मंदिर को आकर्षक विद्युत रोशनी से सजाया गया है। पूरे क्षेत्र में दो दिन से श्रीकृष्ण जन्मोत्सव का उल्लास छाया हुआ है।
इधर इस्कान मंदिर में भी आज रात साढ़े 10 बजे से भगवान का अभिषेक पूजन होगा और रात्रि 12 बजे जन्म के साथ जन्मआरती की जाएगी। इस्कान मंदिर को आकर्षक रोशनी और विदेशी फूलों से सजाया गया है। शनिवार को भी इस्कान मंदिर में जन्माष्टमी से संबंधित विविध धार्मिक आयोजन होंगे।

Share:

Next Post

2 किमी के भीतर एक ही मतदान केंद्र पर हों परिवार के सभी सदस्यों के नाम

Fri Aug 19 , 2022
राज्य निर्वाचन आयोग की गलती से भारत निर्वाचन आयोग ने लिया सबक भोपाल। प्रदेश में पिछले महीने हुए निकाय चुनाव के दौरान मतदाता सूची को लेकर गफलत की स्थिति रही। एक ही पर परिवार के सदस्यों के नाम अलग-अलग केंद्रों पर करने एवं एक वार्ड के नाम दूसरे वार्ड में करने के मामला सामने आया […]