खेल

IPL 2021 : CSK से हार के बाद KKR के कप्तान को लगा एक और झटका

 

मुंबई। कोलकाता नाइट राइडर्स (Kolkata Knight Riders) के कप्तान ऑयन मॉर्गन (Eoin Morgan) पर चेन्नई सुपर किंग्स (Chennai Super Kings) के खिलाफ इंडियन प्रीमियर लीग (IPL 2021) मैच के दौरान धीमी ओवर गति रखने के लिए 12 लाख रुपये का जुर्माना लगाया गया है। सीएसके ने फाफ डुप्लेसी के नाबाद 95 रन और दीपक चाहर के चार विकेट की मदद से बुधवार की रात को कोलकाता नाइट राइडर्स पर 18 रन से जीत दर्ज की थी। इस बड़े स्कोर वाले मैच में सीएसके ने तीन विकेट पर 220 रन बनाए। इसके जवाब में केकेआर 202 रन पर आउट हो गया।

आईपीएल ने बयान में कहा, ”कोलकाता नाइट राइडर्स के कप्तान ऑयन मॉर्गन पर चेन्नई सुपर किंग्स के खिलाफ 21 अप्रैल को वानखेड़े स्टेडिमय में आईपीएल मैच के दौरान धीमी ओवर गति के लिए जुर्माना लगाया गया है।” बयान के अनुसार, ” टीम का आईपीएल आचार संहिता के तहत इस सत्र का यह धीमी ओवर गति से जुड़ा पहला मामला है, इसलिए मॉर्गन पर 12 लाख रुपये का जुर्माना किया गया है।” आईपीएल के नियमों के अनुसार धीमी ओवर गति के पहले मामले में टीम के कप्तान पर 12 लाख रुपये का जुर्माना किया जाता है।

बता दें कि यह सीएसके की लगातार तीसरी जीत है और टीम अकंतालिका में रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर को पीछे छोड़कर टॉप पर भी पहुंच गई है। इस मैच में सीएसके के लिए फाफ डुप्लेसी (नाबाद 95) और रुतुराज गायकवाड़ (62 रन) के अर्धशतकों के बाद दीपक चाहर ने अपनी गेंदबाजी से कहर बरपाया। दीपक चाहर ने चार ओवर में 29 रन देकर 4 विकेट झटके। इसके अलावा लुंगी एनगिडी ने 28 रन देकर तीन विकेट झटके।

वहीं, दूसरी तरफ आंद्रे रसेल और पैट कमिंस का अर्धशतक टीम के काम नहीं आ सका और केकेआर को शिकस्त झेलनी पड़ी। कोलकाता नाइट राइडर्स पैट कमिंस नाबाद 66 रन (34 गेंद, चार चौके, छह छक्के), आंद्रे रसेल की 54 रन (22 गेंद, तीन चौके और छह छक्के) की ताबड़तोड़ और दिनेश कार्तिक (40 रन, 24 गेंद, चार चौके, दो छक्के) की संयमित पारी के बावजूद केकेआर हार गई।

Next Post

डायबिटीज मरीजों के लिए बेहद फायदेमंद है ये जूस, रोजाना करें सेवन

Thu Apr 22 , 2021
डायबिटीज की बीमारी में रक्त में शर्करा स्तर बढ़ जाता है। साथ ही अग्नाशय से इंसुलिन हार्मोन निकलना बंद हो जाता है। यह स्थिति टाइप 2 डायबिटीज (Diabetes) के मरीजों में होती है। विशेषज्ञों की मानें तो डायबिटीज के मरीजों के लिए शुगर कंट्रोल करना टेढ़ी खीर साबित होता है। इसके लिए नियमित दवा का […]