बड़ी खबर राजनीति

‘मेरे कारण बना INDIA गठबंधन’ नीतीश कुमार के इस दावे को मल्लिकार्जुन खड़गे ने किया खारिज

नई दिल्‍ली (New Delhi) । प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Prime Minister Narendra Modi) के विजयी रथ को रोकने के लिए तैयार इंडिया गठबंधन (india alliance) को लवेकर कांग्रेस अध्यक्ष मल्लिकार्जुन खड़गे (Congress President Mallikarjun Kharge) ने नया दावा किया है। उन्होंने बिहार के मुख्यमंत्री और जेडीयू के मुखिया नीतीश कुमार के उस दावे को सिरे से खारिज कर दिया है जिसमें वह लगातार कह रहे हैं कि उनके कारण है इंडियन नेशनल डेवलेपमेंटल इंक्लूसिव अलायंस (INDIA) का गठन हुआ। खड़गे ने कहा कै हि उनकी सलाह पर ही बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने पटना में पहली बैठक बुलाई थी। ऐसे में मुख्यमंत्री नीतीश कुमार का यह दावा बेबुनियाद है कि इंडिया गठबंधन उन्होंने बनाया था।

अपने सरकारी आवास 10, राजाजी मार्ग पर मीडिया से बातचीत करते हुए मल्लिकार्जुन खड़गे ने कहा कि उन्होंने और पार्टी के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने सभी पार्टियों के नेताओं को बुलाकर बातचीत की। 25-26 पार्टियों के नेताओं के साथ जब गठबंधन पर सहमति बन गई, तो यह प्रश्न आया कि पहली बैठक कहां करनी है।


खड़गे कहते हैं कि उन्होंने मुख्यमंत्री नीतीश कुमार को पटना में इंडिया गठबंधन की पहली बैठक करने की सलाह दी थी, क्योंकि वह सरकार में थे। इसके साथ उन्होंने दूसरी पार्टियों के नेताओं को पटना में पहली बैठक के लिए रजामंद किया, पर नीतीश कुमार बोल रहे हैं कि उन्होंने सब कुछ किया था। कांग्रेस ने कुछ नहीं किया।

कांग्रेस अध्यक्ष ने इशारों-इशारों में इस बात पर खुशी जताई कि मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने पहले ही इंडिया गठबंधन छोड़ दिया। खड़गे ने अपने खास अंदाज में कहा कि अच्छा हुआ है कि वह शादी से पहले ही निकल गए। शादी के बाद जाते तो बहुत नुकसान होता। ऐसे में नीतीश कुमार की गठबंधन के गठन में कोई भूमिका नहीं है।

उनसे जब पूछा गया कि- क्या पार्टी जीत सकती हैं? इसके लिए नतीजों का इंतजार करना होगा, लेकिन इसी गठबंधन की राजनीति की वजह से यूपी और बिहार में कांग्रेस को खत्म होते देखा गया है। इन राज्यों में पार्टी को मजबूत करने के लिए पार्टी कोई रणनीति बना रही है? इसके जवाब में खड़गे ने कहा- अभी नहीं हो सकता है। इस वक्त जितना हो सकता है, हम कोशिश कर रहे हैं। हम गठबंधन में हैं। गठबंधन में एक-दूसरे को जगह नहीं देंगे, तो गठबंधन कैसे चलेगा? इसके लिए हमारी पार्टी ने त्याग किया है। एक गठबंधन बनने के बाद हमारे ऊपर दूसरी पार्टियों को जगह देने की भी जिम्मेदारी थी। तय है, जितना मजबूत इंडिया गठबंधन बनेगा, उतनी दिक्कत भाजपा को होगी। हम पार्टी को कमजोर नहीं कर रहे हैं। हम इस बार कुछ कम सीट पर भी चुनाव लड़ रहे हैं, पर इससे कोई फर्क नहीं पड़ेगा।

Share:

Next Post

लोकसभा चुनावः आंध्र प्रदेश में TDP के लिए प्रचार करेंगे 2,000 से अधिक NRI

Sat Apr 27 , 2024
नई दिल्ली (New Delhi)। आंध्र प्रदेश (Andhra Pradesh) में लोकसभा चुनावों (Lok Sabha elections) में पार्टी की जीत सुनिश्चित करने के लिए 2,000 से अधिक तेलुगू मूल के (Non-Resident Indian) NRI टीडीपी सुप्रीमो एन चंद्रबाबू नायडू (TDP supremo N Chandrababu Naidu) का समर्थन कर रहे हैं. अमेरिका में गैस्ट्रोएंटेरोलॉजिस्ट (Gastroenterologist in America) के रूप में […]