उत्तर प्रदेश देश

MLA ने कहा – दलितों और आदिवासियों की वजह से बढ़ रही जनसंख्या

सम्भल। देश में उत्तर प्रदेश की योगी आदित्यनाथ (Yogi Adityanath) सरकार जनसंख्या वृद्धि पर अंकुश लगाने के लिए कानून बनाने पर विचार कर रही है। इस पर समाजवादी पार्टी (सपा) विधायक इकबाल महमूद (Iqbal Mahmood) ने रविवार को कहा कि कानून की आड़ में मुसलमानों पर वार करने की साजिश है। । उन्होंने कहा, ‘दरअसल यह जनसंख्या की आड़ में मुसलमानों पर वार है। बीजेपी के लोग अगर समझते हैं कि देश में सिर्फ मुसलमानों की तादाद बढ़ रही है तो यह कानून संसद के अंदर आना चाहिए था ताकि पूरे देश लागू होता। यह उत्तर प्रदेश में ही क्यों लाया जा रहा है।’

एनआरसी की तरह इस कानून का भी होगा हश्र
सम्‍भल सीट से सपा विधायक ने कहा ‘सबसे ज्यादा आबादी दलितों और आदिवासियों के यहां बढ़ रही है, मुसलमानों के यहां नहीं। मुसलमान तो अब समझ गए हैं कि दो-तीन बच्चों से ज्यादा नहीं होने चाहिए। इस कानून का नतीजा भी एनआरसी (NRC) जैसा ही होगा और असम में एनआरसी का असर मुसलमानों पर कम और गैर मुस्लिमों पर ज्यादा पड़ा।‘ सपा विधायक ने कहा कि जनसंख्या कानून का भी यही हश्र होगा और यह समझ में नहीं आता कि योगी सरकार का महज सात महीने का कार्यकाल बचा है, ऐसे में जनसंख्या कानून पर बात क्यों की जा रही है।

दो महीने के भीतर तैयार हो जाएगा मसौदा
गौरतलब है कि उत्तर प्रदेश की बढ़ती आबादी पर अंकुश लगाने के लिए राज्य का विधि आयोग एक कानून के मसौदे पर विचार कर रहा है। आयोग के अध्यक्ष आदित्य नाथ मित्तल के मुताबिक राज्य की जनसंख्या वृद्धि पर लगाम लगाने के लिए आयोग ने कानून के प्रस्ताव पर काम शुरू कर दिया है। यह मसौदा दो महीने के अंदर तैयार करके राज्य सरकार को सौंप दिया जाएगा।

Share:

Next Post

भीषण गर्मी के कारण हुई मजदूर की मौत, इस देश ने खेत में काम करने पर लगी रोक

Mon Jun 28 , 2021
रोम: दक्षिणी इटली (South Italy) में भीषण गर्मी के बीच खेतों में काम करने के दौरान एक प्रवासी मजदूर की मौत हो गई. जिसके बाद वहां की सरकार ने बड़ा फैसला लेते हुए गर्मियों के दिनों में दोपहर के समय बाहर खुले में काम करने पर और खेतों में काम करने पर प्रतिबंध लगा दिया. […]