देश राजनीति

अब कांग्रेस सरकार मंदिरों से भी लेगी टैक्स, भाजपा ने कहा कहीं और इस्तेमाल होगा पैसा

बेंगलुरु (Bengaluru)। भारतीय जनता पार्टी (BJP) ने कर्नाटक सरकार पर हमला बोला है. दरअसल कर्नाटक सरकार ने ‘कर्नाटक हिंदू धार्मिक संस्थान और धर्मार्थ बंदोबस्ती विधेयक 2024’ (Karnataka Hindu Religious Institutions and Charitable Endowments Bill) पारित किया है. यह विधेयक सरकार को उन मंदिरों से 10 प्रतिशत कर एकत्र करने का अधिकार देता है जिनका राजस्व 1 करोड़ रुपये से अधिक है और उन मंदिरों से 5 प्रतिशत कर एकत्र करने का अधिकार है जिनका राजस्व 10 लाख से 1 करोड़ के बीच है.

सूत्रों के अनुसार कर्नाटक भाजपा अध्यक्ष विजयेंद्र येदियुरप्पा ने कहा कि कांग्रेस सरकार हिंदू विरोधी नीतियां अपनाकर अपना खाली खजाना भरना चाहती है. उन्होंने X पर अपने पोस्ट में लिखा ‘कांग्रेस सरकार, जो राज्य में लगातार हिंदू विरोधी नीतियां अपना रही है, ने अब हिंदू मंदिरों के राजस्व पर टेढ़ी नजर डाली है और अपने खाली खजाने को भरने के लिए हिंदू धार्मिक संस्थान और धर्मार्थ बंदोबस्ती विधेयक पारित किया है.’ उन्होंने कहा कि एकत्रित धन का उपयोग ‘कहीं और’ होगा.



उन्होंने कहा कि ‘मंदिर के विकास के लिए भक्तों द्वारा समर्पित प्रसाद को मंदिर के जीर्णोद्धार और भक्तों की सुविधा के लिए आवंटित किया जाना चाहिए. यदि इसे किसी अन्य उद्देश्य के लिए आवंटित किया जाता है, तो यह लोगों की दैवीय मान्यताओं पर हिंसा और धोखाधड़ी है.’

येदियुरप्पा ने इस बात पर भी आश्चर्य जताया कि केवल हिंदू मंदिरों को ही क्यों निशाना बनाया जा रहा है, अन्य धर्मों को नहीं. टिप्पणियों पर प्रतिक्रिया देते हुए, कर्नाटक के मंत्री रामलिंगा रेड्डी ने भाजपा पर धर्म को राजनीति में लाने का आरोप लगाया. उन्होंने कहा कि कांग्रेस ही हिंदुत्व की सच्ची समर्थक है.

Share:

Next Post

Lok Sabha Election 2024: केरल में कांग्रेस -लेफ्ट के बीच सीटों को लेकर फंसा पेंच, BJP को ऐसे होगा फायदा

Thu Feb 22 , 2024
नई दिल्‍ली (New Delhi)। लोकसभा चुनाव (Lok Sabha Election 2024) को लेकर सभी पार्टियां तैयारियों में जुट गई हैं. राजनीतिक दलों के लिए यह समय अपनी चुनावी रणनीति को धार देने और पिछली बार से ज्यादा सीट जीतने की स्ट्रेटेजी बनाने का है! इस बीच इंडिया अलायंस (India Alliance) की सबसे बड़ी पार्टी कांग्रेस मुश्किल […]