व्‍यापार

रविवार को कीमतों में आई गिरावट के बाद आज पेट्रोल और डीजल के दाम में स्थिरता

 

नई दिल्ली  ।  रविवार को कीमतों में आई गिरावट के बाद आज यानी सोमवार को पेट्रोल और डीजल (Petrol and diesel) के दाम में स्थिरता दर्ज की जा रही है. बता दें कि रविवार को पेट्रोल (Petrol) की कीमतों में 17 से 20 पैसे प्रति लीटर और डीजल (Diesel) की कीमतों में 18 से 20 पैसे प्रति लीटर की कटौती दर्ज की गई थी. हालांकि कुछ शहरों में पेट्रोल का दाम अभी भी 100 रुपये प्रति लीटर के ऊपर बना हुआ है. बता दें कि पेट्रोल की कीमतें 36 दिन से स्थिर थीं लेकिन रविवार को इसमें गिरावट दर्ज की गई थी. पेट्रोल की कीमतों में इससे पहले 17 जुलाई को बदलाव दर्ज किया गया था.

चार बड़े महानगर में पेट्रोल-डीजल के रेट
इंडियन ऑयल (Indian Oil) की वेबसाइट के मुताबिक सोमवार (23 अगस्त 2021) को दिल्ली, मुंबई, कोलकाता और चेन्नई में ग्राहकों को पेट्रोल के लिए क्रमश: 101.64 रुपये, 107.66 रुपये, 101.93 रुपये और 99.32 रुपये प्रति लीटर का भुगतान करना पड़ रहा है. दूसरी ओर चारों महानगर में डीजल के लिए क्रमश: 89.07 रुपये, 96.64 रुपये, 92.13 रुपये और 93.66 रुपये प्रति लीटर चुकाना पड़ रहा है. 

रोजाना तय होते हैं पेट्रोल-डीजल (Petrol-Diesel) के भाव
ऑयल मार्केटिंग कंपनियां (OMC) कीमतों की समीक्षा के बाद प्रतिदिन पेट्रोल (Petrol Rate) और डीजल के रेट (Diesel Rate) तय करती हैं. इंडियन ऑयल (Indian Oil), भारत पेट्रोलियम (Bharat Petrolium) और हिंदुस्तान पेट्रोलियम (Hindustan Petrolium) रोजाना सुबह 6 बजे पेट्रोल और डीजल (diesel) की दरों में संशोधन कर जारी करती हैं. पेट्रोल और डीजल की कीमतों में एक्साइज ड्यूटी, डीलर का कमीशन और अन्य चीजों को जोड़ने के बाद तेल का दाम दोगुना तक बढ़ जाता है.

SMS से भी पता कर सकते हैं पेट्रोल-डीजल (Petrol Diesel) के दाम
कोई भी व्यक्ति अपने शहर के पेट्रोल-डीजल के दाम रोजाना SMS के जरिए भी पता कर सकता है. इंडियन ऑयल (IOC) के उपभोक्ता RSP<डीलर कोड> लिखकर 9224992249 नंबर पर और बीपीसीएल (BPCL) उपभोक्ता RSP<डीलर कोड> लिखकर 9223112222 नंबर पर भेज सकते हैं. एचपीसीएल (HPCL) के उपभोक्ता HPPRICE<डीलर कोड> लिखकर 9222201122 नंबर पर भेजा जा सकता है.

Share:

Next Post

Western Railway ने प्रारम्भिक राजस्व में 5000 करोड़ रु. का Milestone किया पार

Mon Aug 23 , 2021
मुंबई। पश्चिम रेलवे (Western Railway) ने अपने राजस्व को बढ़ाने के लिए सर्वोत्तम सम्भव प्रयास किए हैं और विभिन्न स्तरों पर अपनी गतिशीलता को जारी रखा है। हालांकि कोविड-19 महामारी की विकटतम स्थिति के कारण यात्री और माल यातायात को अनेक मुश्किलों और चुनौतियों का सामना करना पड़ा, मगर पश्चिम रेलवे (Western Railway) ने पिछले […]