उज्‍जैन न्यूज़ (Ujjain News)

कबीर नगर स्थित प्रोफेसर के मकान में हुई चोरी

  • लाखों के जेवर ले गए बदमाश-परिवार गया था शादी समारोह में-पुलिस पहुँची

उज्जैन। नानाखेड़ा क्षेत्र के संत कबीर नगर में रहने वाले इंजीनियरिंग कॉलेज के प्रोफेसर अपने परिवार के साथ पिछले दिनों शादी में शामिल होने के लिए भिंड गए थे। इस दौरान उनका मकान सूना पड़ा हुआ था। बीती रात अज्ञात बदमाश उनके घर में ताला तोड़कर घुसे और वहाँ से लाखों रुपए मूल्य के सोने-चांदी के जेवरों सहित नगदी रुपए चुरा ले गए।


नानाखेड़ा थाना पुलिस ने बताया कि चोरी की घटना संत कबीर नगर में रहने वाले डॉ. कमलेश सिंह चंदेल के यहाँ हुई है। डॉ. चंदेल इंजीनियरिंग कॉलेज में प्रोफेसर हैं और पिछले दिनों वे अपने परिवार के साथ भिंड में रहने वाले रिश्तेदार के यहाँ आयोजित विवाह समारोह में शामिल होने के लिए गए हुए हैं। इस दौरान उनका घर सूना पड़ा हुआ था। इस बात का फायदा उठाकर अज्ञात बदमाश बीती रात मुख्य गेट का ताला तोड़कर घर में घुसे और अलमारी में रखे सोने-चांदी के जेवरों सहित नगदी रुपए चुरा ले गए। आज सुबह जब प्रोफेसर चंदेल और उनके परिवार के लोग अपने घर आए तो मुख्य गेट का ताला टूटा हुआ था और दरवाजा खुला पड़ा था। चोरी की जानकारी लगने पर आसपास के रहवासियों की भीड़ मौके पर लग गई तथा पुलिस को सूचना दी गई। सूचना पाकर नानाखेड़ा थाना पुलिस सहित फिंगर प्रिंट एक्सपर्ट की टीम उज्जैन आ गई थी। घर के अंदर जाकर देखा तो पूरा सामान बिखरा मिला और अलमारी के दरवाजे खुले पड़े थे। अलमारी में रखे लाखों रुपए मूल्य के सोने-चांदी के जेवर सहित 20 हजार रुपए नगदी गायब थे। पुलिस ने मौके पर जाँच शुरू कर दी थी। पुलिस के अनुसार चोरी करने आए बदमाश मुख्य गेट का ताला तोड़कर अंदर घुसे थे। मौके पर फिंगर प्रिंट की टीम भी जाँच कर रही है। पुलिस ने बताया कि प्रोफेसर के मकान में सीसीटीवी कैमरा नहीं लगा है और आसपास के कैमरे के फुटेज देखकर बदमाशों का पता लगाने का प्रयास किया जा रहा है।

Share:

Next Post

उज्जैन-इंदौर से चार रूट पर चलाई 4 समर स्पेशल लेकिन लंबी वेटिंग

Sat Apr 20 , 2024
ट्रेन टिकट की कालाबाजारी करने वाले दलाल सक्रिय उज्जैन। गर्मी की छुट्टियों के लिए समर स्पेशल के रूप में रतलाम रेल मंडल ने 4 ट्रेनें शुरू की थी लेकिन चारों ट्रेन शुरू होते ही लंबी वेटिंग दिखाई देने लगी। सूत्रों के अनुसार ट्रेन टिकट की कालाबाजारी करने वाले बाहरी एजेंट पूरी तरह सक्रिय हैं। गर्मी […]