इंदौर मध्‍यप्रदेश

शहर में गर्भवती महिलाओं का होगा वैक्सीनेशन, 8 हजार डोज मिले

  • 4 सेंटरों पर कल लगाएंगे कोवैक्सीन… आज 204 सेंटरों पर 75 हजार को लगेगी वैक्सीन

इंदौर। गर्भवती महिलाओं को वैक्सीन लगवाने की शुरुआत कल से इंदौर सहित प्रदेश में की जा रही है। मुख्यमंत्री ने ट्वीट कर इसकी जानकारी भी दी और कहा कि इस वैक्सीनेशन से गर्भवती महिलाओं और उनके होने वाले बच्चों को मजबूत सुरक्षा मिलेगी। इंदौर में भी कल 4 सेंटरों पर गर्भवती महिलाओं को नि:शुल्क वैक्सीन लगाई जाएगी। इसके लिए 8 हजार कोवैक्सीन के डोज स्वास्थ्य विभाग को उपलब्ध करवाए गए हैं। वहीं दूसरी तरफ अन्य लोगों को भी आज पहला और दूसरा डोज कोविशिल्ड का दिया जा रहा है। लगभग 204 केन्द्रों पर 75 हजार डोज लगना है, मगर सभी शहरी केन्द्रों पर ऑनलाइन स्पॉट बुकिंग के आधार पर ही ये वैक्सीन लगाई जा रही है, जिसके चलते मजदूर और गरीब तबका परेशान हो रहा है।


23 जुलाई से गर्भवती महिलाओं का भी वैक्सीनेशन अभियान सभी सरकारी मेडिकल कालेज, जिला चिकित्सालय, सिविल हॉस्पिटल और सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्रों पर शुरू किया जा रहा है। शासन ने निर्देश दिए हैं कि इन सभी केन्द्रों पर अलग से कक्ष, निगरानी कक्ष, मेडिकल ऑफिसर द्वारा पर्यवेक्षण की व्यवस्था और सभी केन्द्रों पर भारत सरकार ने जो गर्भवती महिलाओं के संबंध में वैक्सीनेशन की गाइडलाइन का अनिवार्य रूप से पालन करवाया जाए। इंदौर में भी कल चार सेंटरों पर ये वेैक्सीन लगेगी। जिला टीकाकरण अधिकारी डॉ. तरुण गुप्ता के मुताबिक नंदानगर प्रसूति गृह, बाणगंगा, पीसी सेठी और मांगीलाल चूरिया में ये वैक्सीन लगाई जाएगी। 8 हजार को-वैक्सीन के डोज इसके लिए मिले हैं। डॉ. गुप्ता के मुताबिक सालभर में लगभग 90 हजार महिलाएं गर्भवती इंदौर जिले में होती हैं। लिहाजा लगभग 8 से 9 हजार महिलाओं को एक माह में वैक्सीन लगाए जा सकते हैं। वहीं आज 204 सेंटरों पर भी 75 हजार लोगों को वैक्सीन के डोज दिए जाएंगे। कुछ सेंटरों पर कोवैक्सीन के दूसरे डोज भी लगेंगे। मगर अधिकांश सेंटरों पर कोविशिल्ड के ही पहले और दूसरे डोज लगाए जाएंगे। शहरी केन्द्रों पर स्पॉट बुकिंग के आधार पर अभी डोज लगाए जा रहे हैं, जिसके चलते बड़ी संख्या में लोग परेशान भी हो रहे हैं। खासकर वो तबका, जिसके पास ना तो स्मार्टफोन हैं और ना ही उन्हें ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन करना आता है, जिसके चलते अधिकांश लोग दूसर डोज नहीं लगवा पा रहे हैं। वहीं स्वास्थ्य विभाग का कहना है कि वैक्सीन की कमी के चलते स्पॉट बुकिंग की व्यवस्था लागू की गई है।

Next Post

अध्यादेश लाकर आयकर जांच की अवधि बढ़ाएंगे

Thu Jul 22 , 2021
 आयकर समीक्षा के पुराने मामले दोबारा खोलने के लिए सरकार कदम उठाएगी  पुराने नियम के तहत 1 अप्रैल से 30 जून के बीच जारी हुएथे नोटिस  सरकार अंतिम आदेश आने की कर रही है प्रतिक्षा इंदौर। आयकर विभाग ने कर समीक्षा के लिए पुराने नियमों के तहत 1 अप्रैल से 30 जून के बीच नोटिस […]