विदेश

पृथ्‍वी के करीब से गुजरेंगे एक साथ तीन एस्‍टेरॉयड्स, 14 हजार किमी प्रति घंटे है रफ्तार

नई दिल्‍ली। अगले सप्‍ताह (Next week) धरती (Earth) के पास से एंपायर स्‍टेट बिल्‍ड‍िंग (Empire State Building) जितना बड़ा एस्‍टेरॉयड (asteroid) गुजरने वाला है जिसको लेकर सब जगह चर्चा चल रही है. लेकिन उससे पहले शुक्रवार को धरती के पास से तीन छोटे एस्‍टेरॉयड्स (three small asteroids) गुजरने वाले हैं जिसके बारे में नासा (NASA) ने जानकारी दी है.
धरती के पास से शुक्रवार को तीन क्षुद्र ग्रह (Asteroid) गुजरने वाले हैं. इनका धरती से टकराने का खतरा नहीं हैं और एक सुरक्ष‍ित दूरी से ये धरती के पास से गुजर जाएंगे.


इन एस्‍टेरॉयड की स्‍पीड 14,400 किमी प्रति घंटा रहने वाली है. इसमें सबसे बड़े एस्‍टेरॉयड का नाम 2022 AG है जिसका आकार एक कमर्शियल जहाज के बराबर है. ये धरती के पास से शुक्रवार को शाम 6 बजकर 30 पर गुजरेगा.
उससे पहले सुबह 1 बजकर 48 मिनट पर 2022 AA4 एस्‍टेरॉयड धरती के पास से गुजरेगा जिसका आकार 28 मीटर होगा. वहीं दूसरा एस्‍टेरॉयड 2022 AF5 शाम को 4 बजकर 46 मिनट पर गुजरेगा जिसका आकार 16 मीटर है.
बता दें कि शुक्रवार को हमारे रास्ते में आने वाले तीन क्षुद्र ग्रहों में से कोई भी हमारे लिए कोई खतरा पैदा करने वाला नहीं है. उनमें से सबसे निकटतम पृथ्वी से 8,67,000 मील की दूरी से निकलेगा. यह दूरी हमारे ग्रह और चंद्रमा के बीच के अंतर के चार गुना से थोड़ा कम है. खगोलविद वर्तमान में लगभग 2,000 क्षुद्र ग्रहों, धूमकेतुओं और अन्य वस्तुओं को ट्रैक कर रहे हैं जो हमारे हल्के लिए खतरा बन सकते हैं.
बता दें कि 66 मिलियन साल पहले डायनासोर का सफाया करने वाली अंतरिक्ष चट्टान के बाद से पृथ्वी पर ऐसा सर्वनाश कभी नहीं देखा गया है. 30 जून, 1908 को साइबेरिया में तुंगुस्का के पास एक एस्‍टेरॉयड टकराया था जिससे 800 वर्ग मील का जंगल खाक हो गया था. नासा के अनुसार, वैश्विक तबाही तभी शुरू होती है जब 900 मीटर से बड़ी वस्तुएं पृथ्वी से टकराती हैं.

Share:

Next Post

मकर संक्रांति आज, दान कर उठाएं लाभ, 29 साल बाद मिल रहा यह अवसर

Fri Jan 14 , 2022
नई दिल्ली। हिंदू धर्म (Hindu Religion) में सूर्य उपासना (sun worship) से जुड़े कई व्रत-त्योहार (fasting festival) मनाए जाते हैं। उन्ही में से मकर संक्रांति (Makar Sankranti) का त्योहार देश में बड़े ही उत्साह और जोश के साथ मनाया जाता है। मकर संक्रांति(Makar Sankranti) देश के अलग-अलग क्षेत्रों में भिन्न-भिन्न नामों से मनाया जाने वाला […]