चुनाव 2024 बड़ी खबर राजनीति

विधानसभा चुनाव: MP की तरह Rajasthan में भी नए चेहरों पर ज्यादा दांव लगाएगी BJP

नई दिल्ली (New Delhi)। राजस्थान विधानसभा चुनाव (Rajasthan assembly elections) में बीजेपी (BJP) सत्ता विरोधी माहौल (Anti-government environment) का फायदा उठाने के लिए नए चेहरों पर ज्यादा दांव लगा सकती है। साथ ही वह कांग्रेस (Congress) के बड़े नेताओं को उनके ही क्षेत्र में घेरने के लिए अपने प्रमुख नेताओं को भी उतार सकती है। इनमें कुछ सांसदों के नाम भी हो सकते हैं। पार्टी सबसे पहले हारी हुई सीटों की पहली सूची जारी कर सकती है।

नड्डा-शाह ने की उम्मीदवारों के नामों पर चर्चा:
बीजेपी अध्यक्ष जेपी नड्डा (BJP President JP Nadda) और केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह (Union Home Minister Amit Shah) ने भी बुधवार देर रात जयपुर में प्रदेश नेताओं के साथ चुनावी तैयारियों और उम्मीदवारों के नामों पर चर्चा की है। राज्य में खेमे पर शिकंजा कसने के साथ ही इस बात पर भी विचार किया गया कि मुख्यमंत्री समेत कांग्रेस के प्रमुख नेताओं को उनके इलाकों में ही घेरा जाए। इसके लिए पार्टी अपने प्रमुख नेताओं को हटा सकती है। इसमें केंद्रीय मंत्री और सांसद भी शामिल हैं।


डी कैटेगरी की सीटों पर ज्यादा फोकस:
सूत्रों के मुताबिक, पार्टी अपनी सबसे कमजोर यानी डी कैटेगरी की सीटों पर ज्यादा फोकस कर रही है, जिन पर वह दो से तीन बार हार चुकी है। डी कैटेगरी में 19 सीटें हैं। सूत्रों के मुताबिक पार्टी ने हारी हुई सीटों के लिए करीब आधा दर्जन सांसदों के नाम पर भी विचार किया है।

बीजेपी यहां कांग्रेस सरकार के खिलाफ बने सत्ता विरोधी माहौल को भुनाना चाहती है। सांसदों के हटने से माहौल भी बनेगा और नया चेहरा भी। साथ ही बाद में लोकसभा चुनाव में पार्टी कोई नया चेहरा दिखा सकती है। मालूम हो कि पिछले लोकसभा चुनाव में बीजेपी ने 25 में से 24 सीटें जीती थीं और एक सीट उसकी सहयोगी आरएलपी के खाते में गई थी।

बढ़ेगी महिलाओं की संख्या :
राज्य में पार्टी पिछली बार से ज्यादा महिला उम्मीदवारों को भी मैदान में उतार सकती है। कई सीटों पर महिला उम्मीदवारों पर भी चर्चा हुई है।

केंद्रीय चुनाव समिति की बैठक इसी सप्ताह
इस सप्ताह के अंत में बीजेपी की केंद्रीय चुनाव समिति की बैठक होने की संभावना है। इसमें राजस्थान के लिए करीब 40 उम्मीदवारों पर चर्चा होने की संभावना है। सूत्रों के मुताबिक, पार्टी नेतृत्व ने भले ही पूर्व मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे को चेहरा नहीं बनाया है, लेकिन उम्मीदवारों के चयन में उनकी राय को तवज्जो दी जा रही है।

Share:

Next Post

भारत के बाद बांग्लादेश ने भी ट्रूडो को लगाई जमकर फटकार, कहा- हत्यारों का गढ़ बन गया है कनाडा

Fri Sep 29 , 2023
नई दिल्‍ली (New Delhi) । खालिस्तानी आतंकवादी हरदीप सिंह निज्जर (Khalistani terrorist Hardeep Singh Nijjar) की हत्या के कारण भारत और कनाडा (India and Canada) के बीच बढ़े तनाव के बाद अब बांग्लादेश (bangladesh) ने कनाडा की प्रत्यर्पण नीतियों के खिलाफ आक्रोष व्यक्त किया है. दरअसल कनाडा ने बांग्लादेश के संस्थापक शेख मुजीबुर्रहमान (Sheikh Mujibur […]