मध्‍यप्रदेश राजनीति

MP में करारी हार के बाद भी हाईकमान को कमलनाथ पर भरोसा, सौंपी उपचुनाव की जिम्मेदारी

छिंदवाड़ा। लोकसभा चुनाव (Lok Sabha Elections) में करारी मात का सामना करने के बाद भी छिंदवाड़ा (Chhindwara) में फिलहाल पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ (Former Chief Minister Kamal Nath) का जलवा बरकरार माना जा रहा है। कांग्रेस मुख्यालय (Congress Headquarters) ने उनकी क्षमताओं और योग्यताओं पर भरोसा रखते हुए अगले महीने होने वाले उप चुनाव की जिम्मेदारी कमलनाथ पर ही सौंपी है। इस चुनाव के लिए फ्री हैंड देते हुए इस उपचुनाव की रणनीति और भागदौड़ करने की लिए कहा है।

पूर्व मुख्यमंत्री और पीसीसी चीफ कमलनाथ को कांग्रेस के केंद्रीय नेतृत्व ने अमरवाड़ा उपचुनाव के लिए जिम्मेदारी सौंपी है। यहां 10 जुलाई को होने वाले चुनाव की पूरी कमान उनके हाथ ही होगी। कांग्रेस हाई कमान ने उन्हें इस चुनाव की तैयारी के लिए फ्री हैंड देते हुए यहां की व्यवस्था संभालने के लिए कहा है। गौरतलब है कि अमरवाड़ा विधायक कमलेश शाह के भाजपा में जाने के बाद उन्होंने अपने पद से इस्तीफा दे दिया है। इसके बाद चुनाव आयोग ने यहां 10 जुलाई को उप चुनाव कराने का ऐलान किया है।


लोकसभा चुनाव से पहले इस बात की लंबी चर्चा चली थी कि कमलनाथ कांग्रेस का दामन छोड़कर भाजपा के साथ जा रहे हैं। हालांकि बाद में यह कहानी खत्म हो गई, लेकिन चुनाव के दौरान भी यह संभावनाएं उछलती रहीं कि प्रदेश की इकलौती सीट लेकर नाथ भाजपा की तरफ जाने वाले हैं। चुनाव में करारी हार का सामना करने के बाद यह माना जा रहा था कि नाथ को पार्टी में शायद वह वजन न मिले, जिसके साथ वह अब बने रहे हैं। अब कांग्रेस हाई कमान के ताजा आदेश ने इन सारी संभावनाओं को नकार दिया है। यह भी कहा जाने लगा है कि अमरवाड़ा उपचुनाव के परफॉर्मेंस के साथ प्रदेश कांग्रेस में कमलनाथ का नया दौर शुरू हो सकता है।

Share:

Next Post

MP के नर्सिंग घोटाले में एक और बड़ा खुलासा, 13 कॉलेजों में नहीं मिला कोई स्टाफ

Wed Jun 12 , 2024
भोपाल: मध्य प्रदेश (Madhya Pradesh) के नर्सिंग कॉलेज घोटाले (Nursing college scandals) में अब तक कई बड़े खुलासे हो चुके हैं, सीबीआई अभी भी इस मामले की जांच में जुटी है. वहीं इस मामले में अब एक और बड़ा खुलासा हुआ है, जहां प्रदेश के 13 नर्सिंग कॉलेज (13 Nursing Colleges) में नर्सिंग काउंसिल की […]