उज्‍जैन

39 बसों को कंडम घोषित करने के लिए फाइल आरटीओ भेजी

  • नगर निगम की भंगार सिटी बस को बेचने की तैयारी-वर्तमान में 25 बसें चलने लायक

उज्जैन। 13 साल पहले शहर में चली सिटी बस अब धीरे-धीरे दम तोड़ती नजर आ रही है। पहली किश्त में नगर निगम 39 बस को कंडम घोषित करवा कर बेचने की तैयारी कर रहा है वहीं अभी वर्तमान में उनके पास 25 बस चलने की अवस्था में जिनमें से कुछ से बस सड़क पर दौड़ रही है।
वर्ष 2009 में तत्कालीन निगमायुक्त चंद्रमौली शुक्ला के कार्यकाल में शहर में सिटी बस चलाने की योजना शुरू हुई थी। पहली किश्त में शहर में गोवा से मार्को पोलो कंपनी की कंप्यूटराइज्ड इंजन की बसें मंगाई गई थी। शुरुआत में 2 साल यह बसें अच्छी चली लेकिन जैसे ही इनके इंजन में खराबी आई तो पता चला कि यह यहां का कोई मैकेनिक नहीं सुधार सकता है। कंपनी के इंजीनियर को भी बुलाना पड़ेगा और वह कंप्यूटर के माध्यम से ही खराबी देखेंगे और उसमें सुधार करेंगे। बस इसके बाद इन बसों की हालत बिगड़ती गई, कंपनी के नगर निगम पर लाखों रुपए बाकी थे। इस कारण बसें सुधार नहीं पाई और बाद में निगम के कर्ताधर्ता होने डीजल बस मंगवाई या डीजल बस भी ऑटो से भी कम किराए पर नेताओं के रिश्तेदारों जो ठेकेदार के रूप में नगर निगम में काम कर रहे थे।


उन्हें चलाने के लिए दी गई तो उन्होंने कई वर्षों तक इन बसों से लाभ लिया और बाद में इन्हें भंगार करके सिटी बस डिपो में खड़ी कर दी। अब स्थिति यह है कि कोई ठेकेदार इन बसों को चलाने के लिए तैयार नहीं है, अभी वर्तमान में 9 बसें सड़कों पर चल रही है और बाकी की 16बसें सिटी बस डिपो में पड़ी हैं जिनमें कुछ छोटे-मोटे सुधार की जरूरत है। इधर नगर निगम ने 39 बसों की फाइल आरटीओ भेजी है यहां से इन बसों को भंगार घोषित करने की रिपोर्ट मांगी जा रही है। जैसे ही वहां से भंगार घोषित होगी तो नगर निगम नीलामी लगवा कर इन बसों को भेज देगा। कुल मिलाकर सिटी बस जिस जोर-शोर से लाई गई थी, निगम के भ्रष्ट कर्मचारियों और अधिकारियों ने इस योजना को पलीता लगा दिया और अब इलेक्ट्रिक बसें भी शहर को नहीं मिल रही हैं। ऐसे में लोक परिवहन के साधन के मामले में शहर में सिर्फ टाटा मैजिक ई-रिक्शा और ऑटो रिक्शा ही रहेंगे।

Share:

Next Post

महाकाल में उमड़े श्रद्धालु... प्रोटोकाल टिकिट बंद की

Sun Jul 24 , 2022
उज्जैन। महाकालेश्वर मंदिर में आज सावन माह के दूसरे रविवार को सुबह से ही श्रद्धालुओं की भारी भीड़ उमड़ रही है। भीड़ नियंत्रण के लिए मंदिर समिति ने आज भी 100 रुपए प्रोटोकाल टिकिट दर्शन व्यवस्था बंद रखी है। परिसर में भी श्रद्धालुओं को प्रवेश नहीं दिया जा रहा है। महाकालेश्वर मंदिर में कल शनिवार […]