टेक्‍नोलॉजी

Google Gemini App हुआ लॉन्च, हिंदी समेत 9 भारतीय भाषाओं में मिलेगा AI का मजा

डेस्क: गूगल ने आखिरकार एआई चैटबॉट जेमिनी के ऐप को भारत में लॉन्च कर दिया है. लोगों को इस ऐप का लंबे समय से इंतजार था. गूगल की पैरेंट कंपनी अल्फाबेट के सीईओ सुंदर पिचाई ने सोशल मीडिया पोस्ट पर जेमिनी ऐप के लॉन्च की जानकारी दी. इंडिया में इस ऐप को इंग्लिश के अलावा हिंदी समेत 9 भारतीय भाषाओं में लॉन्च किया गया है. देश की बड़ी आबादी अपने फोन पर एआई फीचर्स का फायदा उठा सकेगी. खास बात ये है कि इस ऐप में जेमिनी ऐप और जेमिनी एडवांस्ड दोनों का साथ मिलेगा.

अभी तक गूगल जेमिनी को इंटरनेट ब्राउजर के जरिए इस्तेमाल किया जाता था, लेकिन अब ये ऐप पर भी मौजूद रहेगा. एंड्रॉयड यूजर्स गूगल प्ले स्टोर पर जाकर आप जेमिनी एआई ऐप को डाउनलोड कर सकते हैं. iOS की बात करें तो अगले कुछ हफ्तों में आईफोन यूजर्स सीधे गूगल ऐप से जेमिनी एआई का फायदा उठा सकेंगे.


गूगल के सीईओ सुंदर पिचाई ने एक्स (पहले ट्विटर) पर लॉन्च की घोषणा की. यह ऐप आपको टाइप करने, बात करने या यहां तक ​​कि अपनी जरूरत का सर्च रिजल्ट पाने के लिए एक इमेज एड करने की इजाजत देता है. उदाहरण के लिए अगर आपको टायर बदलने का तरीका जानना है तो एक सपाट टायर की फोटो लें, और जेमिनी से टायर बदलने का तरीका पूछें.

गूगल ने एक ब्लॉग पोस्ट में कहा कि जेमिनी ऐप और जेमिनी एडवांस्ड, गूगल के दोनों सबसे एडवांस्ड AI मॉडल्स 9 भारतीय भाषाओं में मौजूद रहेंगे. इससे ज्यादा से ज्यादा लोग अपनी भाषा में जानकारी ले सकेंगे और एआई के जरिए काम को निपटा सकेंगे.

गूगल का जेमिनी ऐप हिंदी, बंगाली, गुजराती, कन्नड़, मलयालम, मराठी, तमिल, तेलुगु और उर्दू में काम करेगा. गूगल जेमिनी एडवांस्ड में भी नौ लोकल भाषाओं को शामिल किया गया है.

इसके अलावा गूगल ने जेमिनी एडवांस्ड में कई नए फीचर्स शामिल किए हैं. इनमें डेटा एनालिसिस की काबिलियत, फाइल अपलोड और गूगल मैसेज में जेमिनी से इंग्लिश में बात करना शामिल है. भारत के अलावा इस ऐप को पाकिस्तान, बांग्लादेश, श्रीलंका और तुर्की में भी लॉन्च किया गया है.

Share:

Next Post

राहुल गांधी ने रायबरेली को क्यों चुना? एक आइडिया बना कांग्रेस के लिए संजीवनी

Tue Jun 18 , 2024
नई दिल्ली: रायबरेली गांधी परिवार की पारंपरिक सीट है. यहां से सोनिया गांधी, इंदिरा गांधी और फिरोज गांधी सांसद रहे हैं. गांधी परिवार का इस सीट से बेहद इमोशनल कनेक्शन रहा है. सोनिया गांधी की जगह इस बार जब राहुल ने रायबरेली से चुनाव लड़ने का फैसला किया तो सोनिया ने चुनाव के प्रचार के […]