बड़ी खबर

कोरोना के नए वेरिएंट के खिलाफ बूस्टर शॉट की जरूरत बताना जल्दबाजी होगी : WHO

नई दिल्‍ली. दुनिया के लगभग सभी देशों में इन दिनों लोगों को कोरोना संक्रमण (Coronavirus) से बचाने के लिए टीकाकरण (Corona Vaccine) का अभियान चल रहा है. इसके साथ ही कुछ देश और कुछ फार्मा कंपनियां कोरोना वायरस (Covid 19) के अधिक संक्रामक वेरियंट पर वार के लिए वैक्‍सीन के बूस्‍टर शॉट की तैयारी कर रहे हैं. इस बीच स्‍वास्‍थ्‍य विशेषज्ञों के अनुसार इस बूस्‍टर शॉट की जरूरत पर कुछ भी कहना जल्‍दबाजी होगी. वहीं दुनियाभर में वैज्ञानिक मिक्‍स वैक्‍सीन की डोज लगाने के सुझाव पर भी विचार कर रहे हैं.

मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक विश्‍व स्‍वास्‍थ्‍य संगठन (WHO) की चीफ साइंटि‍स्‍ट सौम्‍या स्‍वामीनाथन का कहना है, ‘हमारे पास ऐसी कोई भी जानकारी नहीं है, जिसमें यह सुझाव दिया गया हो कि क्‍या कोरोना वैक्‍सीन की बूस्‍टर डोज की जरूरत है या नहीं. विज्ञान क्षेत्र अभी भी विकसित हो रहा है.

सर्दियों में कोरोना संक्रमण के मामलों में उछाल आने से बचने के लिए ब्रिटेन में कोरोना वैक्‍सीन की बूस्‍टर डोज शुरू किए जाने की संभावना है. वहां के स्वास्थ्य सचिव मैट हैनकॉक ने पिछले महीने कहा था कि दुनिया के पहले बूस्टर संबंधी अध्ययन के तहत इंग्लैंड में वॉलंटियर्स पर सात अलग-अलग वैक्‍सीन का टेस्‍ट किया जा रहा है.

वहीं सौम्‍या स्‍वामीनाथन ने मिक्‍स वैक्‍सीन डोज पर भी बातचीत की है. उनका कहना है कि ऐसा लगता है कि मिक्‍स वैक्‍सीन के डोज कोरोना वैरिएंट के खिलाफ अधिक कारगर साबित होंगे. उन्‍होंने कहा, ‘मिक्‍स वैक्‍सीन की डोज देना उन देशों के लिए बेहतर कदम होगा,जो अपने अधिकांश नगारिकों को वैक्‍सीन की पहली डोज लगा चुके हैं और दूसरी डोज की तैयारी कर रहे हैं.

Next Post

WTC Final: इशांत शर्मा ने एक विकेट लेकर दो रिकॉर्ड बनाए, कपिल देव को पीछे छोड़ा

Mon Jun 21 , 2021
साउथैम्पटन. इशांत शर्मा ने वर्ल्ड टेस्ट चैंपियनशिप के फाइनल में अब तक एक विकेट लिया है. उन्होंने न्यूजीलैंड के ओपनर बल्लेबाज डेवॉन कॉनवे को आउट किया. इस तरह से उन्होंने दो रिकॉर्ड अपने नाम किए. उन्होंने टीम इंडिया के दिग्गज गेंदबाज कपिल देव को पीछे छोड़ा. मैच के फाइनल में टीम इंडिया ने पहली पारी […]