इंदौर उज्‍जैन जबलपुर देश भोपाल मध्‍यप्रदेश

Madhya Pradesh: 1 दिसम्बर से चार और ट्रेनों के फेरे बढ़ाए

  • कोविड स्पेशल के रूप में चलेंगी ट्रेनें, मालवा एक्सप्रेस जैसी बड़ी ट्रेन भी शामिल

इन्दौर। रेलवे ने कोविड स्पेशल के रूप में शुरू की गई 4 और ट्रेनों के फेरे बढ़ा दिए हैं। ये ट्रेनें अब 1 दिसम्बर से अगली घोषणा तक स्पेशल के रूप में चलेंगी। इनमें मालवा एक्सप्रेस जैसी बड़ी टे्रन भी शामिल हैं।

कल ही रेलवे ने इन्दौर-पटना एक्सप्रेस के फेरे बढ़ाने की घोषणा की थी और अब इन्दौर से चलने वाली चार और ट्रेनों के फेरे भी बढ़ा दिए गए हैं, ताकि यात्रियों को राहत मिल सके। कोविड काल में रेलवे ने कोविड स्पेशल टे्रन के रूप में इन ट्रेनों को निर्धारित अवधि के लिए शुरू किया था, लेकिन अब इनकी समयावधि बढ़ाई जा रही है। इन्दौर से प्रतिदिन चलने वाली मालवा एक्सप्रेस अब 2 दिसम्बर से महू से चलेगी, वहीं माता वैष्णादेवी स्टेशन से यह ट्रेन 4 दिसम्बर से बढ़ाई गई है।

इसका समय पुराने टाइम टेबल के अनुसार ही रहेगा। वहीं सप्ताह में तीन दिन चलने वाली रतलाम-भिंड एक्सप्रेस 1 दिसम्बर से बढ़ाई जा रही है। इसी रूट से सप्ताह में चार दिन चलने वाली रतलाम-ग्वालियर एक्सप्रेस रतलाम से 2 दिसम्बर से बढ़ाई जाएगी। इसके साथ ही इन्दौर से जबलपुर के बीच चलने वाली ओवरनाइट एक्सप्रेस की समयावधि में भी विस्तार किया गया है, जो 2 दिसम्बर से लागू होगा। इसके अलावा पश्चिम रेलवे ने 11 अन्य ट्रेनों के फेरों में भी विस्तार किया है, जिनमें अहमदाबाद-दिल्ली सुपरफास्ट, अहमदाबाद-न्यू दिल्ली राजधानी स्पेशल, बान्द्रा-भावनगर सुपरफास्ट, मुंबई सेंट्रल-सूरत, भावनगर-आसनसोल, वलसाड़-मुजफ्फरनगर, सूरत-छपरा, उधना-दानापुर, 5 दिन चलने वाली सोमनाथ-जबलपुर, सोमनाथ-जबलपुर बाय वीकली ट्रेन, निजामुद्दीन-त्रिवेन्द्रम राजधानी, रतलाम-भिंड, रतलाम-ग्वालियर एक्सप्रेस शामिल हैं।

मक्सी से ग्वालियर के बीच इलेक्ट्रिक इंजन से चलेंगी ट्रेनें
इन्दौर से मक्सी होकर दूसरे स्टेशनो ंकी ओर जाने वाली ट्रेनें अब मक्सी के बाद ग्वालियर रूट पर इलेक्ट्रिक इंजन से चला करेंगी। इस रूट पर इलेक्ट्रिफिकेशन का कार्य पूरा होने पर इन्दौर से चलने वाली ग्वालियर-भिंड इंटरसिटी एक्सप्रेस को इसका फायदा मिलेगा। बाकी ट्रेनें कोविड के बाद चलाई जाएंगी।

हालांकि अभी इस रूट पर ट्रेनों की गति में किसी प्रकार की वृद्धि नहीं की गई है। जब-जब भी इलेक्ट्रिफिकेशन होता है ट्रेनों की गति में वृद्ध होती है, जिससे यात्रा में समय कम लगता है। रेलवे ने मक्सी-गुना-झांसी-ग्वालियर रूट पर अगले माह से इलेक्ट्रिक इंजन से ट्रेनें चलाने का तय किया है। रेलवे प्रवक्ता जितेन्द्रकुमार जयंत ने बताया कि अभी कुछ ट्रेनों को यहां इलेक्ट्रिक इंजन से चलाया जाएगा। अभी तक यहां डीजल इंजन से ट्रेनें चलाई जा रही थीं। वहीं मालगाड़ी में भी इलेक्ट्रिक इंजन लगाया जाएगा। 30 नवम्बर को ग्वालियर से इन्दौर आने वाली इंटरसिटी एक्सप्रेस में ग्वालियर से इलेक्ट्रिक इंजन लगाकर मक्सी तक लाया जाएगा, उसके बाद ट्रेन डीजल इंजन से चलाई जाएगी। इसके बाद 1 दिसम्बर को रतलाम-भिंड इंटरसिटी और भिंड रतलाम इंटरसिटी तथा 2 दिसम्बर से रतलाम-ग्वालियर इंटरसिटी स्पेशल ट्रेन इलेक्ट्रिक इंजन से चलाई जाएगी। इसके अलावा इसी रूट से चलने वाली झांसी-बान्द्रा स्पेशल के चार फेरे भी इलेक्ट्रिक इंजन से चलाए जाएंगे।

Share:

Next Post

आईडीए की कुर्सी पर BJP नेताओं की नजर

Sun Nov 29 , 2020
– चुनाव में अच्छा प्रदर्शन करने पर संचालक मंडल में जाने की जुगाड़ भी लगा रहे कई नेता इन्दौर। उपचुनाव हो चुके हैं और अब निगम चुनाव की तैयारियां चल रही हैं, लेकिन इस बीच सत्ता में आने के लिए वरिष्ठ नेता अपनी दावेदारी कर रहे हैं। भाजपा को निगम-मंडलों के साथ-साथ आईडीए में भी […]