देश

मामा के घर आता-जाता था नाबालिग भांजा, मामी से हो गया प्यार और फिर…

चूरू: कहते हैं प्‍यार अंधा होता है. ऐसा एक मामला राजस्‍थान के चूरू जिले के सदर थाने में सामने आया है. यहां एक नाबालिग लड़के और उसकी 35 साल की मामी के बीच प्रेम हो गया. जब इसका पता महिला के पति को चला तो मामला थाने तक पहुंच गया. इस संबंध में पति की ओर से सदर थाने में शिकायत की गयी. मामला बीनासर का है.

विवाहिता के पति ने बताया कि उसकी शादी करीब 10 साल पहले नेशल की महिला के साथ हुई थी. उनके दो बच्चे भी हैं. उसने बताया कि कारंगो बड़ा निवासी उसके नाबालिग भांजे का उसके घर पर आना-जाना था. बताया जा रहा है कि इसी दौरान मामी व भांजे के बीच नजदीकियां प्रेम में बदल गईं और दोनों ने साथ रहने का फैसला कर लिया.

नहीं हुआ पति-पत्नी में तलाक
पीड़ित पति ने बताया कि कुछ दिन पहले उसकी पत्नी ने बताया था कि उसने भांजे के साथ विवाह कर लिया है, अब उसके साथ ही घर बसाएगी. पीड़ित के मुताबिक, दोनों के बीच अभी तक कोई तलाक नहीं हुआ है. मामले को लेकर सदर थाने भी पहुंचा है. पति ने बताया कि विवाह कानूनी रूप से सही नहीं है.

परिजनों ने काफी समझाया
शादी न करने के लिए परिवार के लोगों ने महिला व नाबालिग लड़के को समझाने का प्रयास किया, लेकिन दोनों एक साथ रहने पर अड़े रहे. महिला ने स्पष्ट कह दिया कि वे दोनों साथ जिएंगे और मरेंगे. पहले पति के साथ जाने से महिला ने मना कर दिया.

कानूनी रूप से यह रिश्ता वैध नहीं
इस रिश्ते में सिर्फ सामाजिक हानि नहीं हो रही, बल्कि मामी-भांजे के बीच उम्र का भी एक बड़ा अंतराल है. विवाहिता पूनम जहां 35 वर्ष की है तो उसका भांजा महज 17 साल का है. ऐसे में कानूनी रूप से भी यह रिश्ता वैध नहीं है.

Share:

Next Post

मारपीट कर प्रताडि़त करते हैं पति और ससुर

Fri Sep 16 , 2022
महिला की शिकायत पर आरोपियों के विरुद्ध दर्ज हुआ मामला जबलपुर। थाना गोसलपुर में आज सुबह श्रीमती रोशनी कुशवाहा उम्र 28 वर्ष निवासी ग्राम सिलुआ ने रिपोर्ट दर्ज कराई कि उसका मायका ब्राम्हण मोहल्ला सिहोरा में है। उसकी शादी लगभग 5 वर्ष पहले हिन्दू रीति रिवाज से ग्राम सिलुआ निवासी दालचंद कुशवाहा के साथ हुयी […]