इंदौर न्यूज़ (Indore News) मध्‍यप्रदेश

नाचते-नाचते रिटायर्ड फौजी ने गंवा दी जान, परफॉर्मेंस समझ तालियां बजाते रहे लोग

इंदौर: इंदौर (Indore) में एक रिटायर्ड फौजी (Retired soldier) बलविंदर सिंह छाबड़ा (Balwinder Singh Chhabra) योगा क्लास में परफॉर्मेंस (Performance) दे रहे थे, तभी हार्ट अटैक (heart attack) आ गया और उनकी मौत हो गई. दूसरी तरफ लोग ये सोच कर तालियां बजाते रहे कि ये परफॉर्मेंस का ही हिस्सा है. ये मामले शुक्रवार सुबह का है. मौत से पहले बलविंदर मां तुझे सलाम (Maa Tujhe Salam) गाने पर परफॉर्मेंस दे रहे थे. वायरल वीडियो में आप देख सकते हैं कि वे कितने सहज तरीके से फौजी ड्रेस में परफॉर्म कर रहे हैं. इसी दौरान स्टेज पर ही उनके सीने में दर्द हुआ और बेसुध होकर गिर पड़े. उन्हें देख रहे किसी भी शख्स को समझ नहीं आया कि बलविंदर को हार्ट अटैक आया है.

 

View this post on Instagram

 

A post shared by Agniban (@dainik_agniban)


बता दें कि इंदौर के अग्रसेन धाम फूटी कोठी पर आस्था योग क्रांति अभियान द्वारा निशुल्क योग शिविर का आयोजन किया गया था. इस आयोजन में रिटायर्ड फौजी बलविंदर सिंह को भी बुलाया गया था. आयोजकों के निमंत्रण पर बलविंदर फौजी ड्रेस में ही वहां पहुंचे थे. कार्यक्रम के दौरान मां तुझे सलाम गाने पर वे झूम रहे थे. शुरू में उन्होंने स्टेज और फिर दर्शकों के बीच जाकर भी बड़े अच्छे से परफ़ॉर्मेंस दिया. अंत में वे झंडा हाथ में लेकर जब स्टेज पर पहुंचे तो उनके सीने में दर्द हुआ और स्टेज पर ही गिर पड़े. हालांकि उनको हो रही परेशानी की खबर किसी को नहीं लगी. जब वे गिरे तो उनके हाथ में तिरंगा था… जिसे लेकर दूसरा शख्स लहराने लगा, दूसरी तरफ लोग तालियां बजाते रहे. जब बलविंदर काफी देर तक नहीं उठे तो स्टेज के पास में खड़े एक युवक ने उन्हें उठाने की कोशिश की तो पता चला कि वह बेहोश हैं. आनन फानन में उन्हें स्थानीय अस्पताल ले जाया गया जहां डॉक्टरों ने उन्हें मृत घोषित कर दिया.

Share:

Next Post

एग्जिट पोल को लेकर कांग्रेस आलाकमान ने लिया बड़ा फैसला, डिबेट में शामिल नहीं होगी पार्टी

Fri May 31 , 2024
नई दिल्ली: लोकसभा चुनाव के आखिरी चरण के मतदान (Voting for the last phase of Lok Sabha elections) के बाद एक जून को ही एग्जिट पोल आने (Exit polls will be released on June 1) हैं. सियासी दलों के साथ ही आम लोगों की भी इस पर खास नजर रहती है. एग्जिट पोल को लेकर […]