देश

IMD का अलर्ट जारी: मानसून के जाते-जाते देश के ये राज्‍य हो सकते हैं बारिश से तरबतर!

नई दिल्‍ली। पिछले एक माह से देश के कई हिस्‍सों (many parts of the country) में हो रही झमाझम बारिश के बाद अब देश से मानसून विदा लेने वाला (monsoon taker) है, लेकिन राजस्थान, एमपी के साथ ही दिल्ली एनसीआर (NCR) में बारिश (Rain) के हालात हैं।

आपको बता दें कि मानसून जाते-जाते कई राज्यों को भिगोने की तैयारी में है। पश्चिम राजस्थान और कच्छ के बाद अब मानसून के लौटने में देरी हो रही है। गुरुवार को मध्य प्रदेश, महाराष्ट्र समेत कई राज्यों के कुछ हिस्सों में भारी बारिश के आसार हैं। साथ ही पूर्वी उत्तर प्रदेश और राजधानी दिल्ली में भी बादल मेहरबान हो सकते हैं। संभावनाएं जताई जा रही हैं कि पूर्वोत्तर मध्य प्रदेश और उससे सटे दक्षिण उत्तर प्रदेश पर बना कम दबाव का क्षेत्र अगले 2 दिनों के दौरान पश्चिम-उत्तर पश्चिम की ओर बढ़ सकता है।


राजस्थान में मानसून ने जाते जाते भारी बारिश की है। तेज बरसात के चलते धौलपुर में कई जगहों पर जलजमाव की स्थिति बन गई। आसपास के जिलों में भी भारी बारिश हुई है। वहीं ओडिशा, दिल्ली सहित कई स्थानों पर आज भी बारिश के आसार हैं। वहीं बिहार के कई जिलों में बारिश की संभावना है औश्र तेज हवा चलने के आसार हैं। यूपी में कई इलाकों में भी बारिश हुई है। इसी बीच बीती रात से लगातार हो रही बारिश के चलते जनपद में दो जगह दीवार गिरने से 6 लोगों की हुई मौत हो गई।

मौसम विभाग के अनुसार आज विदर्भ, छत्तीसगढ़, मध्य महाराष्ट्र और मराठवाड़ा में बिजली/गरज और भारी बारिश के साथ व्यापक हल्की या मध्य बारिश होने की संभावना है, जबकि, मध्य प्रदेश में शुक्रवार और शनिवार को यह स्थित बन सकती है। इसके अलावा गुरुवार को मध्य प्रदेश में बहुत भारी बारिश के आसार हैं। 26 सितंबर तक उत्तराखंड और उत्तर प्रदेश में बिजली/गरज के साथ हल्की या मध्यम बारिश हो सकती है।

दूसरी ओर हरियाणा में भी आज बिजली/गरज और भारी बारिश के साथ व्यापक हल्की या मध्यम वर्षा होने की संभावनाएं हैं। साथ ही राजस्थान में शुक्रवार तक यह स्थिति बन सकती है। राजधानी दिल्ली में भी आज मध्यम बारिश के आसार हैं। पूर्वी राजस्थान और पूर्वी उत्तर प्रदेश में गुरुवार को भारी बारिश हो सकती है।

Share:

Next Post

2025 तक हर चौथा आईफोन भारत में बना सकता है एपल, चीन में अपना उत्पादन बंद करना चाहती है कंपनी

Thu Sep 22 , 2022
नई दिल्ली। एपल 2025 तक हर चौथा आईफोन भारत में बना सकती है। जेपी मॉर्गन के विश्लेषकों ने बुधवार को कहा कि बढ़ते भू-राजनीतिक तनाव और लॉकडाउन के बीच दिग्गज टेक कंपनी चीन में अपना उत्पादन बंद करना चाहती है। वह 2025 तक मैक, आईपैड, एपल वॉच और एयरपॉड समेत कुल एपल उत्पादों का 25 […]