देश मनोरंजन

रियासी आतंकी हमले में बाल-बाल बचे TV एक्टर पंकित ठक्कर

नई दिल्ली (New Delhi)। जम्मू-कश्मीर (Jammu and Kashmir) के रियासी में हुए आतंकी हमले में टीवी एक्टर पंकित ठक्कर (Pankit Thakkar) बाल-बाल बचे. उन्होंने बताया कि कैसे वह इस हमले से बच निकले. पंकित ठक्कर (Pankit Thakkar) ‘दिल मिल गए’, ‘कुमकुम- एक प्यारा सा बंधन’, ‘बहू हमारी रजनी कांत’, ‘तुझसे है ‘ समेत कई शो में अपने दमदार एक्टिंग के लिए जाने जाते हैं.

पंकित ठक्कर ने कहा कि वह कटरा में माता वैष्णो देवी मंदिर के दर्शन करने के लिए जम्मू-कश्मीर गए थे. हालांकि, दर्शन करने से पहले ही उन्हें हमले के बारे में पता चल गया था और वे अपने होटल लौट आए. उन्होंने बताया कि वह अपनी तीर्थयात्रा पूरी नहीं कर पाए. एक मीडिया आउटलेट को दिए इंटरव्यू में पंकित ने कहा, ‘यह बेहद भयानक था. मुझे इस डर से बाहर आने और इसके बारे में बात करने में कई दिन लग गए थे. मैंने लोगों को दर्द और छटपटाहट में देखा. यह डरावना था. मैं जम्मू के रियासी में हाल में हुए आतंकी हमले से बहुत दुखी और आक्रोशित हूं.’



निर्दोष लोगों की गई जान
एक्टर ने जम्मू-कश्मीर में चल रही हिंसा को ‘शर्मनाक’ बताया और कहा कि निर्दोष लोगों की जान जाना और इलाके में बढ़ते तनाव को देखना निराशाजनक है. उन्होंने आगे कहा, ‘इस क्रूर हमले का शिकार बने पीड़ित और उनके परिवारों के प्रति मेरी संवेदना है. यह सोचना भी रोंगटे खड़े कर देता है कि इस तरह की हिंसा से लोगों की जाने जा रही हैं. जम्मू-कश्मीर हमेशा से ही बेमिसाल खूबसूरती की भूमि रही है, लेकिन ये घटनाएं यहां की तस्वीर और शांत माहौल को खराब कर रही हैं. हमें इस तरह की घटनाओं, कायरता और बुराई के खिलाफ एकजुट होना चाहिए.’

तीर्थयात्रियों से भरी बस पर आतंकवादियों ने किया था हमला
9 जून को तीर्थयात्रियों को ले जा रही 53 सीटों वाली बस पर आतंकवादियों ने हमला कर दिया था. यह बस शिव खोरी मंदिर से कटरा में माता वैष्णो देवी मंदिर जा रही थी. इस हमले में शामिल आतंकवादियों को पकड़ने के लिए जम्मू कश्मीर पुलिस ने आतंकवादियों का स्केच जारी किया और उसके बारे में जानकारी देने वाले को 20 लाख रुपये का इनाम देने की घोषणा की है.

Share:

Next Post

चीन ने बनाया दुनिया का सबसे छोटा ब्रेन सेंसर, आकार सरसो के दाने से भी छोटा

Sun Jun 16 , 2024
बीजिंग: चीन (China) के वैज्ञानिकों (Scientists) ने दुनिया (world) का सबसे छोटा ब्रेन सेंसर (brain sensor) बनाया है। इस सेंसर का आकार सरसो के दाने (mustard seed) से भी छोटा है। यह सेंसर मस्तिष्क की चोटों या कैंसर से पीड़ित रोगियों की निगरानी के तरीके को बदल सकता है। चीनी वैज्ञानिकों द्वारा विकसित वायरलेस हाइड्रोजेल-आधारित […]