बड़ी खबर

23 सितंबर की 10 बड़ी खबरें

1. मार्क जुकरबर्ग ने गंवाई अपनी आधी संपत्ति, दुनिया के सबसे रईसों की सूची में 20 वें स्थान पर पहुंचे

मेटा के फाउंडर मार्क जुकरबर्ग (Mark Zuckerberg) के लिए यह साल कठिन साबित हो रहा है. वह अब दुनिया के 20वें सबसे अमीर व्यक्ति हैं. नवीनतम रिपोर्ट्स (latest reports) के मुताबिक, मेटा प्रमुख जुकरबर्ग ने 2022 की तीसरी तिमाही तक अपनी संपत्ति का लगभग 50 फीसदी खो दिया है. अब उनकी संपत्ति में इतने बड़े अंतर से गिरावट के साथ जुकरबर्ग अब दुनिया के सबसे अमीर व्यक्तियों की सूची में 20 वें स्थान पर हैं. विशेष रूप से, जुकरबर्ग की वर्तमान नेटवर्थ 2014 के बाद से सबसे कम है. जुकरबर्ग की नेट वेल्थ पिछले दो वर्षों में 106 अरब अमरीकी डॉलर (US Dollar) से गिरकर 55.9 अरब अमरीकी डॉलर हो गई. इसका सीधा सा मतलब है कि मेटा प्रमुख को 71 बिलियन डॉलर का नुकसान हुआ है, जो कि उसकी अब तक की कुल संपत्ति का लगभग आधा है.

 

2. राजस्‍थान के सीएम अशोक गहलोत का बड़ा ऐलान, कांग्रेस अध्यक्ष पद का लड़ेंगे चुनाव

कांग्रेस अध्यक्ष पद (congress president post) के चुनाव की सरगर्मी के बीच राजस्थान (Rajasthan) के सीएम अशोक गहलोत (CM Ashok Gehlot) ने बड़ा एलान किया है। उन्होंने अध्यक्ष पद का चुनाव लड़ने की घोषणा करते हुए कहा कि मैं इस चुनाव के लिए नामांकन करूंगा। इस दौरान उन्होंने यह भी कहा कि गांधी परिवार का कोई भी व्यक्ति इस बार कांग्रेस का अध्यक्ष नहीं बनेगा। केरल (Kerala) में मीडिया के सवालों का जवाब देते हुए गहलोत ने कहा, मैंने राहुल गांधी (Rahul Gandhi) से कई बार बात करने की कोशिश की कि उन्हें अध्यक्ष बनना चाहिए। प्रदेश कांग्रेस कमेटी ने भी यही प्रस्ताव पास किया है, लेकिन उन्होंने इसके लिए मना कर दिया और कहा है कि इस बार गांधी परिवार का कोई भी व्यक्ति कांग्रेस अध्यक्ष पद का चुनाव नहीं लड़ेगा। गहलोत ने कहा, यह तय है कि मैं कांग्रेस अध्यक्ष पद के लिए चुनाव लड़ूंगा। मैं जल्द ही नामांकन दाखिल करने के लिए तारीख तय करूंगा। उन्होंने कहा, देश की वर्तमान स्थिति को देखते हुए विपक्ष को मजबूत करने की जरूरत है।

 

3. Spicejet ने पायलट्स की तनख्वाह 20% बढ़ाई, अक्टूबर महीने से लागू होगा फैसला

स्पाइसजेट (SpiceJet) ने अक्तूबर महीने से अपने पायलटों की सैलरी में 20 प्रतिशत का इजाफा करने का फैसला किया है। समाचार एजेंसी एएनआई ने सूत्रों के हवाले से यह जानकारी दी है। वेतन में यह नवीनतम बढ़ोतरी पिछले महीने छह प्रतिशत की वेतन बढ़ाने की घोषणा के बाद की गई है। विमान सेवा प्रदाता कंपनी स्पाइसजेट के फ्लाइट ऑपरेशंस के एसवीपी कैप्टन गुरचरण अरोड़ा ने स्पाइसजेट के सभी पायलटों को बताया है कि, व्यवसाय में सुधार के साथ वेतन बढ़ाने की हमारी प्रतिबद्धता को ध्यान में रखते हुए अक्टूबर महीने के वेतन में हमारे पायलट्स और वरिष्ठ प्रथम अधिकारियों के वेतन में लगभग 20 प्रतिशत की वृद्धि की जाएगी। वेतन संशोधन का यह फैसला स्पाइसजेट की ओर से कुछ पायलटों को कॉस्ट कटिंग के अस्थायी उपाय के रूप में तीन महीने की अवधि के लिए बिना वेतन (LWP) के छुट्टी पर भेजने का निर्णय लेने के कुछ दिनों बाद आया है।

 

 

4. जागे हो…जब आधी रात को PM मोदी ने लगाया एस. जयशंकर को फोन, जानिए क्‍या हुई बातचीत

अमेरिका में संयुक्त राष्ट्र (United Nations in America)आम सभा की बैठक में भाग लेने गए भारतीय विदेश मंत्री एस जयशंकर (Indian External Affairs Minister S Jaishankar) दुनिया भर के नेताओं से मुलाकात कर रहे हैं। इन सबके बीच ब्रिटिश विदेश मंत्री जेम्स क्लेवरली के साथ उनकी मुलाकात में ब्रिटेन में हिंदू मंदिरों और हिंदुओं पर हो रहे हमलों का मसला छाया रहा। भारतीय विदेश मंत्री ने क्लेवरली (Indian Foreign Minister Cleverly) के सामने ब्रिटेन में रह रहे भारतीय मूल के लोगों की सुरक्षा का मुद्दा भी उठाया। इसी बीच न्यूयॉर्क पहुंचे विदेश मंत्री एस. जयशंकर ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के साथ अपने दिलचस्प किस्सों को साझा किया। ‘मोदी @ 20: ड्रीम्स मीट डिलीवरी’ पुस्तक पर चर्चा के दौरान उन्होंने कहा, आप पूछते हैं कि क्या प्रधानमंत्री मोदी बदलाव ला सकते हैं, लेकिन मैं कहता हूं पीएम मोदी खुद एक बदलाव का ही परिणाम हैं। उनके जैसा कोई व्यक्ति भारत का प्रधानमंत्री बन गया है, यह दिखाता है कि देश कितना बदल गया है।

 

5. पंजाब सरकार को लगा बड़ा झटका, NGT ने लगाया 2 हजार करोड़ का जुर्माना; जानें वजह

पर्यावरण को नुकसान पहुंचाने के मामले में पंजाब सरकार (Punjab Government) को एनजीटी यानी नेशनल ग्रीन ट्रिब्यूनल से बड़ा झटका लगा है. नेशनल ग्रीन ट्रिब्यूनल (National Green Tribunal) ने पर्यावरण को नुकसान पहुंचाने वाले ठोस और तरल कचरे का उचित प्रबंधन नहीं करने के लिए पंजाब सरकार पर 2,000 करोड़ रुपये से अधिक का जुर्माना लगाया है. समाचार एजेंसी एएनआई के मुताबिक, एनजीटी ने पंजाब राज्य को ठोस और तरल कचरे के अनुचित प्रबंधन के लिए पर्यावरण संबंधी मुआवजे के रूप में 2,000 करोड़ रुपये का भुगतान करने का निर्देश दिया था. एनजीटी अध्यक्ष न्यायमूर्ति आदर्श कुमार गोयल की अध्यक्षता वाली पीठ ने यह आदेश जारी किया.

 

6. केदारनाथ धाम में दिखा हिमस्खलन का भयावह मंजर, भरभराकर गिरा बर्फ का पहाड़

पवित्र केदारनाथ मंदिर (Holy Kedarnath Temple) के आसपास के पहाड़ों में गुरुवार शाम 6:30 बजे के करीब हिमस्खलन हुआ. सोशल मीडिया पर वायरल हो रहे एक वीडियो में दिखाई दे रहा है कि मंदिर के पीछे स्थित पहाड़ियों से बर्फ तेजी से नीचे लुढ़क रहा है. देखते ही देखते भूरा पहाड़ बर्फ की सफेद चादर में ओढ़ लेता है. हिमस्खलन की चपेट में आने वाले क्षेत्र को चोराबाड़ी ग्लेशियर कैचमेंट एरिया के रूप में जाना जाता है. यह स्थान केदारनाथ मंदिर परिसर से 5 किलोमीटर की दूरी पर स्थित है. इस एवलांच में जान-माल के नुकसान की कोई खबर नहीं है. अधिकारी स्थिति पर करीब से नजर रखे हुए हैं. आपको बता दें कि केदारनाथ घाटी में बीते कुछ दिनों से मौसम काफी खराब है और तेज बारिश हो रही है. यह वही हिमालय की हिमाच्छादित झील है जो 2013 में उफान पर थी और आधुनिक समय में उत्तराखंड में सबसे विनाशकारी बाढ़ का कारण बनी थी.

 

 

7. हिंसा की आग में झुलस रहा ईरान, प्रदर्शनकारियों पर बर्बरता; अब तक 36 की मौत

ईरान (Iran) में 22 साल की महिला की हत्या (murder of woman) को लेकर शुरू हुआ रोष थमने का नाम नहीं ले रहा है। हिजाब न पहनने को लेकर महिला को गिरफ्तार किया गया था। पुलिस हिरासत में उसकी मौत हो गई थी। इस घटना के बाद से ईरान के कई हिस्सों में भारी विरोध प्रदर्शन चल रहा है। न्यूयॉर्क स्थित एक एनजीओ का दावा है कि ईरान के विभिन्न हिस्सों में हो रहे विरोध प्रदर्शन में अब तक कम से कम 36 लोगों की मौत हो चुकी है। जिसमें पांच सुरक्षाकर्मी भी शामिल हैं। हालांकि समूह का कहना है कि मौत का आंकड़ा और बढ़ सकता है। ईरान में एक सप्ताह पहले महसा अमीनी की पुलिस हिरासत में मौत हो गई थी। इस घटना के बाद से ईरान विरोध की आग में उबल रहा है। आम लोग खासकर बड़ी संख्या में महिलाएं हिजाब पहनने का विरोध जता रही हैं। रिपोर्ट के मुताबिक, अमीनी को हिजाब न पहनने के आरोप में गिरफ्तार किया गया था। न्यूयॉर्क की एक एनजीओ सेंटर फॉर ह्यूमन राइट्स इन ईरान (CHRI) का दावा है कि ईरान में विभिन्न विरोध प्रदर्शनों में अब तक 36 लोगों की मौत हो चुकी है। हालांकि ईरान सरकार के आधिकारिक मौत का आंकड़ा गुरुवार तक 17 था।

 

8. 2023 चुनाव से पहले शिवराज सरकार का बड़ा ऐलान, इन्हें मिलेगा लाभ

मध्य प्रदेश में आगामी विधानसभा चुनाव (assembly elections) से पहले सरकार ने मास्टर स्ट्रोक खेला है। शिवराज सरकार (Shivraj Sarkar) ने बड़ा फैसला लेते हुए मध्य प्रदेश में होने वाली सीधी भर्ती में आर्थिक रूप से कमजोर वर्ग(EWS) को 10 फीसदी आरक्षण का लाभ देने का ऐलान किया है। आर्थिक रूप से कमजोर उम्मीदवारों को मेरिट के आधार पर आरक्षण मिलेगा। दरअसल इस फैसले के अनुसार आर्थिक रूप से कमजोर उम्मीदवारों को न्यूनतम अंकों में 10 फीसदी की छूट मिलेगी। पद के चयनित उम्मीदवारों में से आर्थिक रूप से कमजोर उम्मीदवारों की सूची बनाई जाएगी। जिसके बाद सूची में मेरिट में रहने वाले उम्मीदवारों को आरक्षण दिया जाएगा। यह आदेश सामान्य प्रशासन विभाग ने जारी किया है।

 

 

9. भूटान में 30 माह बाद खुले बॉर्डर, रोज देना होगा टैक्स; एंट्री के नियम भी बदले

भूटान ने विदेशियों (Bhutanese foreigners) के लिए अपनी सीमाएं खोल दी हैं। तकरीबन 30 महीने बाद भूटान की सरजमीं विदेशियों के लिए खोली गई है। कोरोना महामारी के कारण भूटान ने बाहरी लोगों के लिए एंट्री बैन कर रखी थी। शुक्रवार को इन प्रतिबंधों के हटने के बाद भूटानी नागरिक भी सीमा पार जा सकते हैं। हालांकि इस बार भूटान सरकार ने विदेशियों के लिए खास नियम जारी किए हैं। जिसमें एंट्री पर प्रतिदिन शुल्क देना अनिवार्य होगा। साथ ही एंट्री से पहले ऑनलाइन आवेदन जरूरी होगा। एंट्री के वक्त पहचान पत्र के रूप में आधार कार्ड से काम नहीं चलेगा।

 

10. RBI फिर करेगा रेपो रेट में बढ़ोतरी! जानिए कितना हो सकता है ब्याज दरों में इजाफा

भारतीय रिजर्व बैंक (reserve Bank of India) आम जनता को एक और बड़ा झटका दे सकता है. अगले हफ्ते रिजर्व बैंक की मौद्रिक नीति समिति (MPC) की बैठक शुरू होने वाली है, जिसका फैसला 30 सितंबर को आएगा. जानकारों का मानना है कि इस बार भी आरबीआई रेपो रेट (repo rate) की दरों में लगातार चौथी बार इजाफा कर सकता है. ब्याज दरों में इजाफा होने के बाद आपकी ईएमआई (EMI) में भी बढ़ोतरी हो जाएगी. न्यूज एजेंसी के मुताबिक, रिजर्व बैंक महंगाई पर कंट्रोल करने के लिए ब्याज दरों में बढ़ोतरी कर सकता है. इकनॉमिस्‍ट का मानना है कि इस बार सरकार 35 बेसिस प्वाइंट तक का इजाफा कर सकती है. वहीं, कुछ लोगों का मानना है कि 50 बेसिस प्वाइंट का भी इजाफा हो सकता है.

Share:

Next Post

जपो निरन्तर एक ज़बान, हिंदी, हिंदू, हिंदुस्तान..

Sat Sep 24 , 2022
– गौरव अवस्थी भारतेंदु युग के प्रमुख स्तंभ पंडित प्रताप नारायण मिश्र की अल्प आयु में पिता की मृत्यु के चलते औपचारिक पढ़ाई तो बहुत नहीं हो पाई लेकिन स्वाध्याय के बल पर वह पत्रकारिता और साहित्य के प्रकांड पंडित बने। परवर्ती साहित्यकारों और संपादकों में तो उनके प्रति सम्मान का भाव था ही पूर्ववर्ती […]