विदेश

अमेरिका ने किया समर्थन, भारत पाकिस्तान के बीच होनी चाहिए सीधी बातचीत

वाशिंगटन (Washington)। भारत पाकिस्तान के संबंधों (india pakistan relations) को लेकर एक बार फिर अमेरिका (US) ने बड़ा बयान दिया है. अमेरिका ने कहा है कि वह भारत और पाकिस्तान के बीच सीधी बातचीत (live chat) का समर्थन करता है, लेकिन बातचीत का दायरा दोनों पड़ोसी देश खुद निर्धारित करें।

भारत और पाकिस्तान के बीच सीधी बातचीत की हिमायत करते हुए अमेरिका ने कहा है कि दोनों देश स्वयं सीधे संवाद की दिशा तय करेंगे। अमेरिका ने भारत और पाकिस्तान के साथ संबंधों को महत्व देने को लेकर प्रतिबद्धता दोहराई।

गुरुवार को अमेरिकी विदेश विभाग के प्रवक्ता मैथ्यू मिलर ने प्रेस वार्ता में कहा कि हम भारत-पाकिस्तान दोनों के साथ संबंधों को महत्व देते हुए दोनों देशों के बीच सीधी बातचीत का समर्थन करते हैं। उन्होंने कहा कि अमेरिका-भारत घनिष्ठ आर्थिक और सांस्कृतिक संबंध साझा करते हैं। दोनों देश हिंद-प्रशांत रणनीति पर काम करने वाले भागीदार बने रहेंगे।



दरअसल, प्रेस वार्ता के दौरान उनसे पाकिस्तान के प्रधानमंत्री शहबाज शरीफ द्वारा प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी को तीसरे कार्यकाल पर बधाई दिए जाने पर अमेरिकी की प्रतिक्रिया के बारे में सवाल किया गया था।

उल्लेखनीय है कि 10 जून को पाकिस्तान के प्रधानमंत्री शहबाज शरीफ ने नरेन्द्र मोदी को लगातार तीसरी बार भारत के प्रधानमंत्री पद की शपथ लेने पर बधाई दी थी। साथ ही पाकिस्तान के पूर्व प्रधानमंत्री नवाज शरीफ ने भी मोदी को बधाई देते हुए कहा था कि हालिया चुनाव में भाजपा की सफलता मोदी के नेतृत्व में लोगों के विश्वास को दर्शाती है। जिसके जवाब में पीएम मोदी ने एक्स पर पोस्ट कर दोनों का धन्यवाद किया।

Share:

Next Post

सूरसागर हिंसा के बाद चप्पे-चप्पे पर हो रही पुलिस की निगरानी

Sun Jun 23 , 2024
जोधपुर (Jodhpur)। सूर्यनगरी जोधपुर के सूरसागर (sursagar violence) इलाके में भड़की हिंसा के बाद अब हालात नियंत्रण में हैं. उपद्रव प्रभावित इलाके में भारी पुलिस फोर्स तैनात (sursagar violence) है. पुलिस प्रशासन ने सूरसागर थाना समेत आसपास के पांच थाना इलाकों में धारा-144 (Section 144 L) लगा रखी है. इस बीच पुलिस ने इस संबंध […]