देश भोपाल मध्‍यप्रदेश

दिग्विजय सिंह ने पहले संघ प्रमुख मोहन भागवत का जताया आभार, फिर कसा तंज

भोपाल। मध्य प्रदेश के पूर्व सीएम दिग्विजय सिंह वैसे तो हमेशा आरएसएस और भाजपा पर तंज कसते नजर आतें है लेकिन शुक्रवार को जबलपुर में उन्होंने ऐसा बयान दिया जिससे सियासी गलियारों में हलचल सी मच गई। दिग्विजय सिंह ने संघ प्रमुख मोहन भागवत का आभार प्रकट किया। वहीं दिग्विजय सिंह ने पीएफआई के समर्थन में केरल में प्रदर्शन मामले में चुप्पी साध ली।

दरअसल दिग्विजय सिंह ने कहा कि भारत जोड़ो यात्रा को अभी दो हफ्ते भी नहीं हुए और इसका कितना असर संघ प्रमुख मोहन भागवत पर हुआ है। वे मदरसा जाने लगे, वे मस्जिद जाने लगे। मस्जिद और मदरसा जाने के लिए निश्चित तौर पर मोहन भागवत को प्रेरणा भारत जोड़ो यात्रा से मिली होगी। इसीलिए हम उनके प्रति आभार व्यक्त करते हैं।

जानकारी के अनुसार मोहन भागवत ने गुरुवार को अखिल भारतीय इमाम संगठन के प्रमुख इमाम उमर अहमद इलियासी से मुलाकात की। मोहन भागवत गुरुवार को कस्तूरबा गांधी मार्ग पर स्थित मस्जिद में पहुंचे। जिसके बाद उन्होंने इमाम उमर इलियासी के पिता जमील इलियासी की मजार पर जियारत की। फिर आजाद मार्केट में एक मदरसे का दौरा किया , जहां बच्चों से बातचीत की। इस सबके बाद मौलवी उमर अहमद इलियासी ने मोहन भागवत को राष्ट्रपिता तक कह दिया।

मोहान भागवत का आभार प्रकट करने के बाद उन्होंने आरएसएस को आड़े हाथों भी लिया। उन्होंने कहा कि आरएसएस मुसलमानों के खिलाफ दुष्प्रचार कर रहा है। ये झूठा प्रचार करती है कि मुसलमान 10-10 बच्चे पैदा करते और 4-4 पत्नियां रखते हैं। उन्होंने दावा करते हुए कहा कि मुसलमान की जनसंख्या 18% से ज्यादा नहीं हो सकती। मुस्लमान की आबादी बढ़ने के बजाए लगातार घटी है। उन्होंने आरएसएस को अन रजिस्टर्ड बॉडी बताया।

उन्होंने आगे कहा कि राहुल गांधी की भारत जोड़ो यात्रा ने कई सालों से चला आ रहा दुष्प्रचार खत्म कर दिया है। भारत जोड़ो यात्रा में राहुल गांधी को लोगों का अपार श्रेय मिल रहा है। नवंबर के आखिरी में यात्रा मध्य प्रदेश में प्रवेश करेगी। भारत जोड़ो यात्रा मध्य प्रदेश के बुरहानपुर से शुरू होगी। प्रदेश के तमाम जिलों में करीब 800 किलोमीटर की भारत जोड़ो यात्रा होगी। और मध्य प्रदेश में यात्रा के दौरान राहुल करीब 16 दिन रहेंगे।

इस दौरान मीडिया से चर्चा में PFI के समर्थन में केरल में प्रदर्शन मामले में पूर्व सीएम दिग्विजय सिंह ने चुप्पी साध ली। उन्होंने कहा मीडिया जो बात मुझसे बुलवाना चाहती है मैं कभी नहीं बोलूंगा। इस सवाल के जवाब में उन्होंने मीडिया को ही नसीहत देते हुए कहा आप केरल नहीं गए थे लेकिन मैं केरल गया था।

Share:

Next Post

बैर न करा दे अध्यक्ष पद का मुकाबला! कांग्रेस की नेताओं को नसीहत

Fri Sep 23 , 2022
नई दिल्ली। कांग्रेस पार्टी के वरिष्ठ नेता जयराम रमेश ने पार्टी के प्रत्येक प्रवक्ता और नेताओं से आग्रह किया है कि वे कांग्रेस अध्यक्ष पद के लिए चुनाव लड़ने वाले उम्मीदवारों की टिप्पणी से बचें। उन्होंने कहा कि व्यक्तिगत प्राथमिकताओं को छोड़ अपने काम का पालन करते रहें। दरअसल, गुरुवार को कांग्रेस पार्टी के प्रवक्ता […]