इंदौर

शहर के 1,15,000 उपभोक्ताओं के मोबाइल नंबर ही दर्ज नहीं

इंदौर। ऊर्जा विभाग में बिजली कंपनियों को पेपरलेस बिजली बिल के लिए निर्देशित किया हुआ है इंदौर बिजली कंपनी ने इंदौर शहर के दक्षिणी शहर संभाग के 5 झोन एवं चार अन्य झोन उपभोक्ताओं को इस महीने की शुरुआत में मोबाइल पर बिजली बिल पहुंचा दिए है वहीं पूरे शहर में मोबाइल पर बिजली बिल देने मैं अभी समय लगेगा, क्योंकि इंदौर शहर में तकरीबन 115000 ऐसे उपभोक्ता हैं, जिनके मोबाइल नंबर बिजली कंपनी के पास दर्ज नहीं है।

तीन माह में अभियान चलाकर बिजली कंपनी ने 15 जिलों के पांच लाख नंबर जुटाए हैं। अब एक्टिव बिजली खातों से 44 लाख मोबाइल नंबर लिंक हो चुके है। बिजली कंपनी के पास तकरीबन 56 लाख बिजली उपभोक्ता हैं, वहीं इंदौर शहरी क्षेत्र 7 लाख 28 हजार बिजली के उपभोक्ता हैं। इनमें से 6 श्लाख 13 हजार उपभोक्ता के मोबाइल बिजली कंपनी के पास दर्ज हैं, यानी इंदौर शहर में 115000 बिजली उपभोक्ताओं के मोबाइल अभी लिंक नहीं है यानी अक्टूबर के महीने में पूरे शहर को पेपर में बिजली बिल नहीं जाएंगे।

मध्यप्रदेश पश्चिम क्षेत्र बिजली वितरण कंपनी के प्रबंध निदेशक अमित तोमर ने बताया कि सभी जोन, वितरण केंद्रों के कर्मचारियों, मीटर रीडरों के माध्यम से मोबाइल नंबर एकत्र किए जा रहे है। कंपनी के पोर्टल और काल सेंटर के माध्यम से भी मोबाइल नंबर लिए जा रहे है। मोबाइल पर बिजली बिल पहुंचाने की प्रक्रिया शुरू कर दी गई है शुरुआती दौर में थोड़ा समय लग रहा है।

Share:

Next Post

परदेशीपुरा बस्ती में सूअर पालने के बाड़े पर निगम का धावा

Wed Sep 21 , 2022
तीन घंटे इंतजार के बाद पहुंचा अमला, महिलाएं घरों में डटीं, महिला पुलिस-बाउंसरों ने संभाला मैदान इन्दौर। आज सुबह परदेशीपुरा की एक बस्ती में सूअर पालने के बाड़े को तोडऩे के लिए निगम अफसरों को खासी जद्दोजहद करना पड़ी। तीन घंटे के इंतजार के बाद भारी पुलिस बल के साथ निगम का अमला फौजपाटे के […]