भोपाल

भेल दशहरा मैदान पर उमड़ा नवनियुक्त शिक्षकों का हुजूम… प्रदेशभर से बसों और ट्रेन से राजधानी पहुंचे टिचर्स

  • नवनियुक्त शिक्षकों को मुख्यमंत्री करेंगे प्रशिक्षित

भोपाल। शिक्षक दिवस से एक दिन पूर्व यानी आज प्रदेश भर के 15 हजार से अधिक नवनियुक्त शिक्षक राजधानी पहुंचे हैं। इन नवनियुक्त शिक्षकों को मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान प्रशिक्षित करेंगे। राजधानी के भेल दशहरा मैदान में शिक्षकों का हुजूम उमड़ा है। प्रदेशभर से शिक्षक बसों और ट्रेन से भरकर यहां पहुंचे हैं। दूर दराज के जिले के शिक्षक शनिवार से ही राजधानी में जुटना शुरू हो गए थे।
यह प्रशिक्षण कार्यक्रम स्कूल शिक्षा एवं जनजातीय कार्य विभाग की ओर से आयोजित किया जा रहा है। कार्यक्रम में मुख्य अतिथि मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान, जनजातीय कार्य विभाग की मंत्री मीना सिंह मांडवे, स्कूल शिक्षा राज्यमंत्री इंदर सिंह परमार होंगे। इस दौरान विभागीय अधिकारी भी उपस्थित रहेंगे। कार्यक्रम स्थल को बैनर-पोस्टर से सजा दिया गया है। इस कार्यक्रम के लिए मैदान में विशालकाय डोम बनाया गया है।


प्रशिक्षण कार्यक्रम में नवनियुक्त शिक्षकों को रहने, ठहरने और भोजन की व्यवस्था के लिए भोपाल जिले के 150 प्राचार्यों व शिक्षकों को लगाया गया है। वरिष्ठ शिक्षक व प्राचार्य नवनियुक्त शिक्षकों को खाने, ठहरने से लेकर कार्यक्रम स्थल पी पहुंचने की निगरानी कर रहे हैं। इसके अलावा दूसरे जिले से आने वाले शिक्षकों के लिए 150 बसें चलाई गई। इसके लिए बसों का रूट चार्ट भी दिया गया है। बस में आवश्यकतानुसार पेयजल और प्राथमिक उपचार की सुविधा आवश्यक रूप से रखी गई है। विभागीय अधिकारियों ने वरिष्ठ शिक्षकों व प्राचार्यों को सुबह का नास्ता, दोपहर का भोजन शिक्षकों को रहने और ठहरने की व्यवस्था करने के निर्देश दिए हैं।

मैरिज हाल और स्कूलों में ठहरने की व्यवस्था
दूसरे जिले से आने वाले शिक्षकों के ठहरने के लिए मैरिज हाल की व्यवस्था की गई है। अधिकारियों का कहना है कि 15 हजार में करीब आठ हजार शिक्षिकाएं हैं। इस कारण उनके ठहरने के लिए अच्छी व्यवस्था की गई है। प्रशिक्षण कार्यक्रम में शिक्षकों को बेहतर तरीके से पढ़ाने के तरीके और राष्ट्रीय शिक्षा नीति के बारे में जानकारी दी जाएगी। इस कार्यक्रम को लेकर नवनियुक्त शिक्षकों में काफी उत्साह है।

Share:

Next Post

प्रदेश में सेना भर्ती रैलियों का बजट पांच से बढ़कर किया 12 लाख

Sun Sep 4 , 2022
इस बजट के अलावा अतिरिक्त बजट की जरूरत पड़ी तो अन्य विभागों से भी लिया जाएगा सहयोग भोपाल। अग्निवीर योजना के तहत प्रदेश में होने वाली सेना भर्ती रैलियों का बजट दोगुना से ज्यादा कर दिया गया है। पहले सेना भर्ती रैलियों का बजट पांच लाख निर्धारित था, अब इसे 12 लाख रुपये कर दिया […]