जीवनशैली धर्म-ज्‍योतिष

14 जुलाई से शुरू हो रहा सावन, इस महीनें में भूलकर भी न करें ये काम, वरना रूष्‍ट हों जाएंगे महादेव

नई दिल्ली। भगवान शिव (Lord Shiva) का पवित्र श्रावण मास शुरू होने में अब सिर्फ थोड़ा ही समय बाकी रह गया है. इस साल सावन का महीना 14 जुलाई से शुरू होगा और 12 अगस्त तक चलेगा. सावन के महीने में भोलेनाथ की पूजा का विशेष महत्व (special importance) बताया गया है. ऐसा कहते हैं इस महीने शिवजी की पूजा करने से जीवन की हर बाधा दूर हो सकती है. ज्योतिषविद कहते हैं कि सावन के महीने में कुछ गलतियां (mistakes) करने से भी बचना चाहिए.

1. सावन में खाने की चीजों को लेकर सतर्कता बरतनी चाहिए. इस महीने मांस-मछली या मदिरापान के सेवन से परहेज किया जाता है. इस महीने सात्विक भोजना करना चाहिए. यानी उसमें लहसुन-प्याज (garlic-onion) का इस्तेमाल भी नहीं होना चाहिए.


2. श्रावण मास में बैंगन (Eggplant) खाने से परहेज करना चाहिए. बैंगन को एक अशुद्ध सब्जी माना जाता है. यही कारण है कि लोग द्वादशी और चतुर्दशी के दिन भी बैंगन खाने से बचते हैं.

3. सावन में शिवलिंग का दूध से जलाभिषेक करना शुभ माना जाता है. इसी कारण इस महीने दूध पीने से परहेज करना चाहिए. जैसे भाद्रपद में दही खाने से परहेज किया जाता है, वैसे ही सावन में दूध से परहेज करना चाहिए.

4. पूजा के वक्त शिवलिंग पर कुछ खास चीजें चढ़ाने से बचना चाहिए. शिवलिंग पुरुष तत्व से संबंधित है तो उस पर हल्दी नहीं चढ़ानी चाहिए. भोलेनाथ को बेलपत्र, भांग और धतूरा बहुत पसंद है.

5. इस पवित्र महीने में किसी का अपमान न करें और बुरे विचार मन में ना लाएं. खासतौर से गुरु, जीवनसाथी, माता-पिता, मित्र और द्वार पर आए लोगों का अपमान नहीं करना चाहिए.

6. सावन के महीने में यदि दरवाजे पर कोई गाय या बैल आए तो उसे मारकर ना भगाएं. ऐसे पशुओं को खाने के लिए कुछ जरूर दें. बैल को मारना भगवान शिव की सवारी नंदी का अपमान करने के समान है.

7. श्रावण मास में गलती से भी शरीर पर तेल न लगाएं. सावन में तेल का दान किया जाता है. इसलिए इसे शरीर में लगाना अशुभ माना जाता है. ऐसा करने से भगवान शिव नाराज हो जाते हैं.

8. इस महीने भगवान शिव या शिवलिंग को केतकी अर्पित ना करें. इस महीने दिन के वक्त सोने से बचना चाहिए.

नोट- उपरोक्‍त दी गई जानकारी व सुझाव सिर्फ सामान्‍य सूचना के लिए हैं हम इसकी पुष्टि नहीं करते हैं. इन्‍हें अपनाने से पहले संबंधित विशेषज्ञ की सलाह जरूर लें.

Share:

Next Post

महाराष्ट्र के कोंकण में जबरदस्त बारिश, गुजरात में NDRF की टीमें तैनात, उत्तराखंड में भी अलर्ट

Tue Jul 5 , 2022
पुणे । महाराष्ट्र (Maharashtra) के कोंकण (Konkan) में जबरदस्त बारिश (rain) देखने को मिली है. कुछ दिनों की बारिश ने वहां पर स्थिति बेकाबू सी कर दी है. महाड जिले (Mahad District) में कई जगहों पर जलभराव हो गया है, नदियों (rivers) का स्तर बढ़ गया है और लोगों को तरह-तरह की परेशानियों का सामना […]

Leave a Reply

Your email address will not be published.