इंदौर

वीआईपी नंबर, कारों की नई सीरीज आज नीलामी में होगी शामिल, 0001 नंबर पर सबकी नजर

  • कार के नंबरों की नई सीरिज एमपी09-डब्ल्यूएम के वीआईपी नंबर आज से होंगे नीलाम, इस बार ऊंची जाएगी वीआईपी नंबरों की बोली

इंदौर। इंदौर आरटीओ ऑफिस द्वारा हाल ही में कार के नंबरों की नई सीरिज एमपी09-डब्ल्यूएम जारी की गई है। आज से पहली बार इस सीरिज के नंबरों को नीलामी में शामिल किया जाएगा। इसके चलते इस सीरिज के वीआईपी नंबर 0001 पर सबकी नजर है। इसके साथ ही अन्य वीआईपी नंबरों को लेने के लिए आवेदक इंतजार में हैं। इसके कारण इस बार की नीलामी में ऊंची बोलियां लगना तय है।

उल्लेखनीय है कि परिवहन विभाग द्वारा माह में दो बार वीआईपी नंबरों की ऑनलाइन नीलामी की जाती है। पहली नीलामी 1 से 7 तारीख के बीच और दूसरी 15 से 21 के बीच। आरटीओ ऑफिस में मंगलवार से ही कार की नई सीरिज डब्ल्यूएम शुरू की गई है। इसके चलते आज से शुरू होने वाली नीलामी में इसके वीआईपी नंबरों को शामिल किया गया है। आवेदक नई सीरिज के खुलने का लंबे समय से इंतजार कर रहे थे। सबसे ज्यादा मांग 0001 नंबर को लेकर है। इसके साथ ही 0003, 0007, 0009, 1111, 3333, 7777, 9999 जैसे नंबरों को लेने के लिए भी आवेदक उत्साहित हैं।

पौने तीन करोड़ की कार ले सकती है 0001 नंबर
इंदौर में हाल ही में पोर्शे कंपनी की टॉयकन कार जर्मनी से मुंबई के रास्ते लाई गई है। इसकी कीमत पौने तीन करोड़ रुपए है। कहा जा रहा है कि इस कार को लाने वाला परिवार लंबे समय से अपनी कीमती कारों के लिए 0001 नंबर ले रहा है। इसे देखते हुए उम्मीद है कि नई सीरिज का 0001 नंबर इस कार के लिए खरीदा जाएगा। अन्य कई शौकीन भी 0001 नंबर के इंतजार में हैं, जिसके कारण इस नंबर के लिए ऊंची बोली लगना तय है। फैसला 21 अप्रैल की रात को होगा। इंदौर में यह नंबर 13 लाख तक में बिक चुका है।

वीआईपी नंबरों का आंकड़ा 45 हजार के पार पहुंचा
नई सीरिज के नंबरों को ऑनलाइन नीलामी में शामिल करते ही इंदौर में बिकने के लिए तैयार वीआईपी नंबरों का आंकड़ा 45 हजार को पार करते हुए 45080 पर पहुंच गया। इनमें से ज्यादातर नंबरों को लंबे समय से कोई खरीद नहीं रहा है। जल्द ही इन्हें ऑनलाइन नीलामी से हटाकर डीलर्स पाइंट पर सात हजार रुपए प्रति नंबर में दिए जाने की योजना है।

Share:

Next Post

Russia-Ukraine War: संकट में सहारा बने भारतीय किसान, भूखी दुनिया को खिला रहे रोटी, निर्यात भी बढ़ा

Fri Apr 15 , 2022
नई दिल्‍ली: रूस और यूक्रेन के बीच जारी युद्ध (Russia-Ukraine War) ने सिर्फ इन दोनों देशों को ही नुकसान नहीं पहुंचाया, बल्कि पूरी दुनिया पर संकट खड़ा कर दिया. अनाज की सप्‍लाई बाधित होने से कई देशों में पेट भरने का संकट भी खड़ा हो रहा. ऐसे में भारतीय किसानों के उगाए अनाज दुनिया का […]