क्राइम देश

पालम एयरपोर्ट से फर्जी विंग कमांडर अरेस्ट, पुलिस-एजेंसियां कर रहीं पूछताछ

नई दिल्‍ली (New Dehli)। पालम एयरपोर्ट पर 21 फरवरी को फर्जी सेवानिवृत्त विंग कमांडर गिरफ्तार (Wing Commander arrested)किया गया। आरोपी भारतीय वायुसेना (Indian Air Force)के परिसर में घुसने की कोशिश (Effort)कर रहा था। शक होने पर सुरक्षाकर्मियों ने पहचान पत्र मांगा। दस्तावेज न दिखा पाने के बाद सुरक्षाकर्मियों ने उसे पकड़ लिया और एयरफोर्स के वरिष्ठ अधिकारियों को मामले से अवगत कराया। इसके बाद दिल्ली कैंट थाना पुलिस ने आरोपी को गिरफ्तार कर लिया है।


आरोपी के पास से सशस्त्र बलों के पांच फर्जी आईडी कार्ड बरामद किए गए हैं। फिलहाल एजेंसियां आरोपी से पूछताछ कर रही हैं। भारतीय वायु सेना के अनुसार 21 फरवरी की दोपहर करीब 12.30 बजे 40 वर्षीय विनायक चड्ढा वायु सेना के पालम स्टेशन पहुंचा। जांच के लिए सुरक्षाकर्मियों ने उसे रोका। आरोपी ने पहला सुरक्षा घेरा तो पार कर लिया था। दूसरी जांच के दौरान विनायक ने फर्जी पहचान पत्र दिखाया। जिसे देखकर उसे पकड़ लिया गया।

सेना परिसरों में घुसने की कोशिश

वायुसेना के अधिकारियों ने आशंका जताई है कि आरोपी ने फर्जी पहचान पत्र के जरिए अन्य सेना परिसरों में भी दाखिल होने की कोशिश की है। वायुसेना के अधिकारियों ने उसकी जांच की मांग करते हुए कहा कि आरोपी इन दस्तावेजों का इस्तेमाल देश विरोधी काम के लिए करता है। सूत्रों की माने तो आरोपी रेकी करने के लिए परिसर में घुसने का प्रयास कर रहा था। गंभीर आरोपों के साथ अब दिल्ली पुलिस सहित केन्द्रीय जांच एजेंसियां आरोपी से पूछताछ कर रही है।

दो साल पहले भी अरेस्ट हुआ था फर्जी अधिकारी

इससे पहले अक्टूबर 2022 में आईजीआई एयरपोर्ट से एक फर्जी विंग कमांडर पकड़ा गया था। पुलिस को उसके पास से फर्जी एंट्री पास मिला था। जिसकी मदद से वह जब चाहे तब आईजीआई एयरपोर्ट के अंदर दाखिल हो सकता था। आरोपी फिरोज गांधी के घर से जांच टीम को एयरफोर्स से संबंधित कई चीजें मिली थीं। इसके अलावा 28 मुहर, एयरफोर्स से संबंधित कई कार्ड और विंग कमांडर की दो वर्दी भी मिली थी।

Share:

Next Post

यूपी में सपा-कांग्रेस गठबंधन का इन 25 सीटों पर सीधा असर, मुस्लिम बाहुल्य सीटों पर फंस सकता है पेंच

Fri Feb 23 , 2024
लखनऊ (Lucknow) । यूपी (UP) के लोकसभा (Lok Sabha) के चुनावी रण में सपा-कांग्रेस (SP-Congress) का एक साथ रहना तय हो चुका है। सीटों के बंटवारे (seat sharing) में कांग्रेस (Congress) के खाते में वही सीटें गई हैं जिन पर उसका अपना प्रभाव कभी रहा करता था। यूपी की 80 लोकसभा सीटों के इतिहास पर […]