इंदौर न्यूज़ (Indore News) मध्‍यप्रदेश

Indore: 8 इंची सीमेंट-कांक्रीट की सडक़ बीच में से ही धंस गई

यशवंत सागर की ट्रंक लाइन के ऊपर बनाई है सडक़

इंदौर। एरोड्रम रोड (Aerodrome Road) से छोटा बांगड़दा (Chota Bangarda) की ओर जाने वाली सीमेंट-कांक्रीट (Chota Bangarda) की सडक़ (road) बीच (middle) में से धंस (collapsed) गई और उसमें पानी का टंैकर फंस गया। बाद में टैंकर तो निकाल लिया गया, लेकिन गड्ढे को ऐसा ही छोड़ दिया गया, जिसके बाद रहवासियों ने आसपास बैरिकेड्स लगाए, ताकि कोई दुर्घटना न हो पाए।



रहवासियों का कहना है कि यहां नीचे यशवंत सागर से पानी की एक टं्रक लाइन शहर में आ रही है। उसी पर सडक़ बनाई गई है, लेकिन उसे मजबूत नहीं किया गया। आज सुबह जब रहवासियों ने देखा कि सडक़ के बीचोबीच गड्ढा हो गया है तो उन्होंने नगर निगम के अधिकारियों को शिकायत की और वहां रखे बैरिकेड्स उसके आसपास लगा दिए, ताकि कोई वाहन इसमें न धंस जाए। रहवासियों का कहना है कि यहां 8 इंच की सडक़ तो बनाई गई, लेकिन उसे मजबूत नहीं किया गया, जिसके कारण इस प्रकार सडक़ धंसती रहती है। अभी यहां एक पानी का टैंकर फंसकर उलट गया था, जो काफी मशक्कत के बाद निकाला गया। रहवासियों का कहना है कि लाइन की मरम्मत के लिए भी यहां गड्ढे खोदे जाते हैं, लेकिन उन्हें ऐसे ही भर दिया जाता है। पक्का नहीं किय जाता। चूंकि अब स्कूल शुरू होना हैं और आसपास में कालोनियां होने के कारण यहां सुबह-सुबह स्कूली बसें आएंगी, ऐसे में फिर से कोई हादसा न हो जाए। रहवासियों का कहना है कि रोड का मजबूती के साथ सीमेंटीकरण किया जाए, ताकि आगे से ऐसे हादसे न हो पाएं।

Share:

Next Post

घर में बच्चे की बीमारी देख डॉक्टर भी हैरान, नौकरानी ने 10 सेकेंड में कर दिया इलाज

Fri Jun 14 , 2024
नई दिल्ली (New Delhi)। केरल (Kerala) के रहने वाले हेपेटोलॉजिस्ट साइरिएक एबी फिलिप्स (Hepatologist Cyriac AB Phillips) को ‘द लिवर डॉक’ (‘The Liver Dock’) के नाम से जाना जाता है। उन्होंने हाल ही में अपना एक अनुभाव साझा किया। उन्होंने कहा कि विशेषज्ञ होने के बावजूद उन्हें परिवार के सदस्य की बीमारी (family member’s illness) […]