इंदौर

सिंगल यूज प्लास्टिक के खिलाफ चालान बने, मगर कारण भी बताएं

महापौर ने अधिकारियों को दिए निर्देश, व्यापारियों से भी किया अनुरोध – उत्पादन-विक्रय पूरी तरह से करें बंद

इंदौर। केन्द्र सरकार ने 1 जुलाई से देशभर में सिंगल यूज प्लास्टिक पर प्रतिबंध लगा दिया है। महापौर ने कल अधिकारियों और व्यापारियों के साथ बैठक में कहा कि चालानी कार्रवाई अवश्य करें। मगर व्यापारियों के साथ दुव्र्यवहार न हो और साथ ही चालानी कार्रवाई के कारण भी स्पष्ट रूप से बताए जाएं। प्लास्टिक के अन्य विकल्प के संबंध में नागरिकों को लगातार जागरूक भी करने की बात कही।

महापौर पुष्यमित्र भार्गव ने शहर के डिस्पोजल उत्पादक और व्यापारी एसोसिएशन के पदाधिकारियों के साथ बैठक ली, जिसमें अपर आयुक्त संदीप सोनी, अधीक्षण यंत्री महेश शर्मा, प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड के अधिकारी और व्यापारी शामिल हुए। महापौर श्री भार्गव ने कहा कि शासन निर्देशानुसार सिंगल यूज प्लास्टिक को प्रतिबंधित कर दिया है और इंदौर को उससे पूरी तरह मुक्ति दिलाना है, जिसमें सभी का सहयोग अपेक्षित है। अगर सिंगल यूज प्लास्टिक का उत्पादन, संग्रह या विक्रय किया जाता है तो निगम द्वारा चालानी कार्रवाई की जाएगी। लेकिन निगम अधिकारियों को कहा गया कि इस कार्रवाई के दौरान चालान पर उल्लेख करें कि किस कारण से यह कार्रवाई की जा रही है। व्यापारियों से सम्मान के साथ बात करने और उन्हें समझाइश देने के निर्देश भी अधिकारियों को दिए गए। 56 दुकान, योजना 54 और सराफा सहित अन्य चाट-चौपाटी में अब डिस्पोजल या प्लास्टिक के स्थान पर अब स्टील बर्तनों का उपयोग होने लगा है। नागरिकों को भी इस संबंध में निगम द्वारा लगातार जागरूक किया जा रहा है, जिसमें अधिकांश व्यापारी और दुकानदार भी सहयोग कर रहे हैं।

Share:

Next Post

एशिया में और अव्वल हुआ इंदौर एयरपोर्ट

Fri Aug 19 , 2022
यात्री संतुष्टि के मामले में इंदौर एयरपोर्ट की एशिया में रैंक सुधरी, 47 से 42वें स्थान पर पहुंचा – एयरपोर्ट काउंसिल इंटरनेशनल के एयरपोर्ट सर्विस क्वालिटी सर्वे की रिपोर्ट में 0.01 अंक ज्यादा मिले – देश में लगातार दूसरी बार भी चौथे स्थान पर इंदौर एयरपोर्ट, वाराणसी एयरपोर्ट देश में सबसे आगे इंदौर, विकाससिंह राठौर। […]