जीवनशैली स्‍वास्‍थ्‍य

मॉनसून में सेहत के लिए खतरनाक हो सकते हैं मच्‍छर, भगानें में मददगार होंगे ये उपाय

मच्छर का जहरीला डंक इंसान की जान को खतरे में डाल सकता है। मॉनसून (Monsoon) में पैदा होने वाले मच्छर जीका वायरस, मलेरिया, चिकनगुनिया और डेंगू (Chikungunya and Dengue) जैसी बीमारियों को कारण बन सकते हैं। मच्छरों से निपटने के लिए बाजार में कई प्रकार के चीजें उपलब्ध हैं। लेकिन आप चाहें तो इन चीजों पर पैसा बहाने की बजाए घर में मौजूद बिल्कुल नैचुरल चीजों से भी इन्हें नष्ट कर सकते हैं।

पुदीने का तेल-
पुदीने के गंध से भी मच्छरों को दूर भगाया जा सकता है। इसके लिए हमेशा अपने आस-पास पुदीने के तेल की एक शीशी रख सकते हैं। मच्छरों से मुक्ति पाने के लिए आप घर की बालकनी में पुदीने का एक पौधा भी रख सकते हैं।

कपूर-
वॉशरूम, किचन या अलमारी में रखे कपूर की गंध मच्छरों को घर से बाहर खदेड़ सकती है। कमरे के अंदर या बालकनी के किसी कोने में कहीं भी एक छोटे से बर्तन में कपूर रख दीजिए। करीब 30 मिनट में कपूर की गंध पूरे घर में फैल जाएगी और वहां मच्छर नहीं आएंगे।

लहसुन
सब्जियों में खाने का जायका बढ़ाने वाला लहसुन (Garlic) भी एक नैचुरल स्प्रे की तरह आपके काम आ सकता है। इसके लिए लहसुन को पानी में उबाल लीजिए। फिर इस पानी को किसी बोतल में भरकर स्प्रे की तरह घर के कोनों में छिड़काव करें। ऐसा करने से मच्छर भाग जाएंगे।


कॉफी-
किसी भी व्यक्ति के घर में कॉफी मिलना बहुत मुश्किल काम नहीं है। क्या आप जानते हैं कॉफी का इस्तेमाल कर बीमारी फैलाने वाले इन मच्छरों (mosquitoes) से छुटकारा पाया जा सकता है। मच्छर आमतौर पर एक जगह इकट्ठा हुए गंदे पानी में पनपते हैं। इस पानी में जरा सी कॉफी डालने से आपको मच्छरों से राहत मिल सकती है।

लेवेंडर ऑयल-
लेवेंडर के तेल की खुशबू के सामने मच्छरों का टिकना मुश्किल हो जाता है। अपने आस-पास या घर में मच्छरों से छुटकारा पाने के लिए लेवेंडर के तेल का स्प्रे से छिड़काव करें। आप चाहें तो इस खुशबूदार तेल को अपने हाथ और पैरों पर भी क्रीम की तरह इस्तेमाल कर सकते हैं।

Share:

Next Post

पुरुषों की तुलना महिलाओं में कोरोना वैक्‍सीन साइड-इफेक्ट्स का जोखिम ज्‍यादा, जानें क्‍यों?

Tue Sep 14 , 2021
किसी भी वैक्सीन से साइड इफेक्ट्स (side effects) का होना सामान्य घटना है. यह आपके स्वास्थ्य को किसी भी तरह के जोखिम में नहीं डालती और न ही शरीर पर लंबे समय तक असर छोड़ती है. कोरोना वायरस (corona virus) से संक्रमित होने पर हल्की बीमारी का अनुभव हो सकता है जबकि दूसरे लोगों में […]