देश

तौकाते तूफान को लेकर PM Modi ने लिया तैयारियों का जायजा, सुरक्षा सुनिश्चित करने का निर्देश

नई दिल्ली। अरब सागर(Arabian Sea) में बन रहे दबाव के चलते देश के तटीय इलाकों में भयंकर चक्रवात (Cyclone) आने की संभावना है। वहीं, भारतीय मौसम विभाग Indian Meteorological Department (IMD) द्वारा चक्रवात ‘तौकाते’(cyclone tauktae) को लेकर जारी चेतावनी के बाद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Prime Minister Narendra Modi) ने शनिवार को इस आपदा से निपटने की तैयारियों का जायजा लिया।
बैठक के दौरान प्रधानमंत्री मोदी (Prime Minister Modi) ने अधिकारियों को निर्देश दिया कि सभी लोगों को सुरक्षित जगहों पर पहुंचाने के लिए हर मानक सुनिश्चित किया जाए। प्रधानमंत्री ने बैठक में कहा कि यह सुनिश्चित किया जाए कि लोगों को बिजली, दूरसंचार, स्वास्थ्य, पेयजल जैसी मूलभूत सुविधाएं मिलती रहें।
वहीं, मौसम विभाग ने कहा है कि तौकाते चक्रवात तेज हुआ है। इसके साथ ही इसके और तेज होने व बहुत गंभीर चक्रवाती तूफान में बदलने की आशंका है।


सरकारी सूत्रों के मुताबिक इस बैठक में राष्ट्रीय आपदा प्रबंधन प्राधिकरण (एनडीएमए) के अधिकारियों समेत केंद्र सरकार के शीर्ष अधिकारी शामिल हुए। बता दें, आईएमडी ने एक दिन पहले यानी शुक्रवार (14 मई) को कहा कि अरब सागर में बने दबाव के क्षेत्र के 17 मई को ‘अत्यंत भीषण चक्रवाती तूफान’ में तब्दील होने और एक दिन बाद इसके गुजरात तट को पार करने की संभावना है।

केरल में मूसलाधार बारिश से सैकड़ों मकान क्षतिग्रस्त
वहीं केरल में मूसलाधार बारिश होने और तेज हवाएं चलने से सैकड़ों मकान क्षतिग्रस्त हो गए, पेड़ उखड़ गए और बिजली आपूर्ति घंटों तक बाधित रही। समुद्र में ऊंची लहरें उठने से तटीय इलाकों में जनजीवन बाधित हो गया। राज्य में कई जगहों पर पेड़ उखड़ गए और मकानों तथा वाहनों पर गिरे। पेड़ों के गिरने से कई स्थानों पर यातायात भी बाधित हो गया जबकि इडुक्की में मुन्नार-वट्टावडा रोड कुछ वक्त तक बाधित रहा। भारत मौसम विज्ञान विभाग (आईएमडी) से मिली ताजा जानकारी के अनुसार, पांच जिलों मलप्पुरम, कोझीकोड, वायनाड, कन्नूर और कासरगोड में अत्यधिक भारी बारिश की आशंका के साथ ‘रेड अलर्ट’ जारी किया गया है।

तटीय जिलों के प्राधिकारियों को चौकन्ना रहने के निर्देश: सीएम ठाकरे
इधर, महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने राज्य के तटीय जिलों में प्राधिकारियों को स्थिति से निपटने के लिए चौकन्ना रहने और साजोसामान तैयार रखने के निर्देश दिए हैं। मुख्यमंत्री कार्यालय द्वारा शुक्रवार देर रात जारी एक बयान में ठाकरे के हवाले से कहा गया, ‘चौकन्ना रहिए और जहां भी जरूरत पड़े बचाव अभियान चलाएं।’ ठाकरे ने कहा कि इस चक्रवात का असर पालघर, रायगढ़, रत्नागिरी, सिंधुदुर्ग जिलों में पड़ सकता है और इन जिलों के जिलाधीशों को बचाव उपकरण और श्रमबल के लिहाज से सभी आवश्यक एहतियात बरतने के लिए कहा गया है। बयान में आगे कहा गया है कि क्रवात से निपटने की तैयारियों का जायजा लेने के लिए ठाकरे ने आपदा प्रबंधन प्राधिकरण के साथ बैठक की जिसमें उन्होंने सभी से चौकन्ना रहने के लिए कहा।

Next Post

सागर राणा हत्याकांड: पहलवान सुशील कुमार के खिलाफ गैर जमानती वारंट जारी

Sat May 15 , 2021
नई दिल्ली। दिल्ली के छत्रसाल स्टेडियम (Chhatrasal Stadium in Delhi) में हुए युवा पहलवान सागर राणा (Young wrestler Sagar Rana) हत्याकांड (Murder Case) में फरार चल रहे दो बार के ओलंपिक पदक विजेता(Olympic medalist) सुशील कुमार(Sushil Kumar) के खिलाफ गैर जमानती वारंट जारी(Non bailable warrant issued) किया गया है। वहीं सूत्रों का कहना है कि […]